एसबीआई देगा ‘ग्रीन कार लोन’, सामान्य कार लोन से ऐसे होगा अलग

0
176

न्यूज चक्र @ सेन्ट्रल डेस्क
देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई (स्टेट बैंक ऑफ इंडिया) ने ‘ग्रीन कार लोन’ की शुरुआत की है। बैंक ने इसकी दरें सामान्य ऑटो लोन के मुकाबले 0.20 फीसदी कम तय की है, लेकिन इस लोन के लिए कुछ शर्तें भी हैं। हालांकि, इस लोन के लिए सबसे कम पेपर वर्क और ईएमआई होगी। आवश्यक औपचारिकताएं पूरी करने के बाद बैंक लोन जारी कर देगा। बैंक फिलहाल इस लोन के लिए अप्लाई करने वालों से कोई प्रोसेसिंग फीस भी नहीं वसूलेगा।
ये खासियत है ग्रीन कार लोन की
भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई ) ने इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने वालों को ब्याज में 0.20 प्रतिशत छूट देने की घोषणा की है। ये इलेक्ट्रिक कार की खरीदारी के लिए लॉन्च हुआ भारत का पहला ग्रीन कार लोन है। इस पहल का मकसद इलेक्ट्रिक वाहन की खरीदारी को बढ़ावा देना है।‌
एसबीआई गाड़ी के ऑन रोड प्राइज का 90 फीसदी कार लोन फाइनेंस करता है। ऑन रोड प्राइस में रजिस्ट्रेशन, इंश्योरेंस, एक्सटेंडेड वारंटी, टोटल सर्विस पैकेज, एनुअल मेंटेनेंस कॉन्ट्रैक्ट, कॉस्ट ऑफ एक्सेसरीज आदि होती है।
ग्रीन कार लोन के फीचर्स
-एसबीआई के सामान्य कार लोन के मुकाबले ग्रीन कार लोन पर 0.20 फीसदी कम ब्याज देना होगा।
-एसबीआई के ग्रीन कार लोन में 8 साल का रिपेमेंट पीरियड होगा।
-एसबीआई के सामान्य कार लोन में 7 साल का रिपेमेंट पीरियड होता है।
-ग्रीन कार लोन लॉन्च होने के 6 महीने तक एसबीआई अपने ग्राहक से इस पर कोई प्रोसेसिंग फीस नहीं लेगा।
जरूरी हैं ये डॉक्युमेंट
-पिछले 6 महीने का बैंक स्‍टेटमेंट
-2 पासपोर्ट फोटो
– पहचान पत्र में पासपोर्ट, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस
– लेटेस्‍ट सैलरी स्लिप, फॉर्म 16
-व्‍यापारी वर्ग या अन्‍य के लिए 2 साल का रिटर्न
-कृषि क्षेत्र के आवेदक के लिए जमीन के कागजात