अवैध सम्बन्धों के कारण हुई पत्रकार की हत्या, महिला और उसका साथी गिरफ्तार

0
360

न्यूज चक्र @ सेन्ट्रल डेस्क/ मुम्बई
ठाणे पुलिस ने 15 मार्च को हुई पत्रकार नित्यानंद पांडे की हत्या का खुलासा करते हुए उनकी महिला सहयोगी व वारदात में उसके सहयोगी रहे व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया। पांडे की हत्या अवैध सम्बन्धों के कारण की गई थी।
ठाणे ग्रामीण पुलिस अधीक्षक डॉ. शिवाजी राठौड़ ने बताया कि अंकिता और उसके साथी सतीश मिश्रा ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। पुलिस को दिए अपने बयान में अंकिता ने कहा कि पांडे कई महीनों से उसका शारीरिक शोषण कर रहा था। सूत्रों के अनुसार नित्यानंद और अंकिता में कई वर्षों से अवैध सम्बन्ध थे। पुलिस ने अंकिता के पास से नित्यानंद की सोने की दो अंगूठियां और चेन बरामद की है।
पुलिस के अनुसार अंकिता ने इस बात की शिकायत पुलिस में इसलिए नहीं की, क्योंकि उसे लगता था कि नित्यानंद के प्रभाव के कारण उसकी शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं होगी। इसी के चलते उसने नित्यानंद की हत्या की साजिश रची। मामले के दूसरे आरोपी सतीश के यहां नित्यानंद की मासिक पत्रिका की छपाई होती थी। उसने सतीश को पत्रिका छपाई का तीन महीने का भुगतान नहीं किया था। पैसे मांगने पर पांडे गाली-गलौज करने लगता था। इसी बात को लेकर सतीश के मन में भी पांडे के खिलाफ खासा रोष था।
पुलिस को दिए अपने बयान में आरोपियों ने बताया कि 15 मार्च को दोपहर तीन बजे के आसपास रॉ हाउस दिखाने के बहाने वे पांडे को उत्तन लेकर गए। इसी दौरान गाड़ी में अंकिता ने नित्यानंद को प्रोटीन पाउडर के साथ बेहोशी की दवा पिला दी। बेहोशी के दौरान ही दोनों ने नित्यानंद की रस्सी और हाथ से गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद दोनों पांडे की लाश को लेकर भिवंडी के खारडी गांव के एक नाले में फेंक आए।