योगेश सेन @ कोटा
रजवाड़ा क्रिकेट लीग (आरसीएल) सीजन 3 का 27 जनवरी को एक बार फिर शानदार तरीके से आगाज होने जा रहा है। नौ दिवसीय इस क्रिकेट प्रतियोगिता का समापनन 5 फरवरी को होगा।‌ पूर्व के मैचों की तरह इस बार भी आरसीएल नवोदित क्रिकेट प्रतिभाओं को उनका टैलेंट दिखाने का पूरा मौका देगा। इस बार भी सभी मैच नयापुरा स्थित अन्तरराष्ट्रीय स्टेडियम में होंगे। राष्ट्रीय- अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खिलाड़ियों के अलावा जानी मानी फिल्मी हस्तियां भी युवा खिलाड़ियों की हौसला अफजाई करेंगी तो दर्शकों के लिए आकर्षण का केन्द्र भी रहेंगी।
आरसीएल के चैयरमेन अमीन पठान ने बुधवार को पत्रकार वार्ता में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इन मैचों के लिए नामचीन क्यूरेटर पिच तैयार करने में जुटे हुए हैं। इनमें प्रवेश नि:शुल्क रहेगा। इस प्रतियोगिता में 6 टीमें कोटा चम्बल टाइगर्स, उदयपुर मेवाड़ रॉयल्स, जोधपुर जोधाना रॉयल्स, अजमेर मेरू वॉरियर्स, जयपुर पिंक सिटी रॉयल व जैसलमेर जगुआर्स शामिल होंगी। इनके बीच में कुल 18 मैच होंगे।
आरसीएल चैयरमेन पठान ने बताया कि 27 जनवरी को उद्घाटन मैच दोपहर 12 बजे प्रारम्भ होगा। इस दिन यह एक मैच ही होगा। बाकी अन्य दिन सुबह 9 से दोपहर 12.30 बजे तथा दोपहर 1 से शाम 4.30 बजे तक दो-दो मैच होंगे। टी 20 की थीम पर ये मैच अन्तरराष्ट्रीय मानकों पर खेले जाएंगे।
ये फिल्मी और क्रिकेट सितारे होंगे आकर्षण
पठान ने बताया कि आरसीएल सीजन 3 में फिल्म स्टार जैकी श्रॉफ, रवीना टंडन, जरीन खान, कायनात अरोड़ा व जोजो के अलावा सिंगर अलीकुली मिर्जा भी शामिल होंगे। इनके अलावा भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान अजहरुद्दीन सहित इरफान पठान, जहीर खान, मुनाफ पटेल, परवीन कुमार आदि भी खिलाड़ियों का हौंसला बढ़ाएंगे। आईपीएल खेलने वाले राजस्थान के खिलाड़ी भी इसमें आएंगे। इस बार भी चियर्स लीडर्स खिलाड़ियों के चौकों-छक्कों पर म्यूजिक के साथ उनका उत्साह वर्धन करेंगी।

क्रिकेट का भविष्य है आरसीएल

पठान ने बताया कि पूर्व में आयोजित आरसीएल सीजन 1 व 2 ने भारत को नए क्रिकेट खिलाड़ी उपलब्ध कराने का मंच तैयार करके दिया है। इनके माध्यम से छुपी हुई क्रिकेट प्रतिभाएं सामने आईं। इनमें खलील अहमद, दीपक चाहर, कमलेश नागरकोटी, राहुल चाहर, सलमान खान, नाथूसिंह, महिपाल लोमरोर आदि शामिल हैं।

लाइव नहीं होगा प्रसारण

आरसीएल चैयरमेन पठान ने बताया कि इस बार मैचों का प्रसारण लाइव नहीं होगा। इसका कारण उन्होंने बीसीसीआई के नॉर्म्स और स्टेडियम में फ्लड लाइटों का नहीं होना बताया।