कांग्रेस ने लगा दिया आखिरी मास्टर स्ट्रोक

0
336

न्यूज चक्र @ सेन्ट्रल डेस्क
प्रियंका गांधी वाड्रा ने आखिरकार आज आधिकारिक तौर पर राजनीति में कदम रख दिया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी बहन प्रियंका को पार्टी का राष्ट्रीय महासचिव घोषित करने के साथ पूर्वी उत्तरप्रदेश की कमान सौंप दी है। पू्र्वी उत्तर प्रदेश को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गढ़ माना जाता है। ऐसे में प्रियंका आगामी लोकसभा चुनाव में योगी को सीधी चुनौती देती नजर आएंगी। विदेश से लौटने के बाद वह फरवरी के पहले सप्ताह में कार्यभार सम्भालेंगी।
उल्लेखनीय है कि पिछले लोकसभा और विधानसभा चुनावों में भी प्रियंका ने पार्टी की रणनीति तय करने और उम्मीदवारों के चयन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, हालांकि यह पहली बार है जब पार्टी में उन्हें औपचारिक पद दिया गया है। इस सम्बन्ध में पार्टी के महासचिव अशोक गहलोत की ओर से जारी प्रेस रिलीज में कहा गया है कि, ‘कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रियंका गांधी वाड्रा को पूर्वी उत्तर प्रदेश की महासचिव के तौर पर नियुक्त किया है। वह फरवरी के पहले सप्ताह में पद संभालेंगी।’
उत्तर प्रदेश कांग्रेस को मिलेगी नई ऊर्जा
कांग्रेस की प्रेस रिलीज के मुताबिक, वरिष्ठ कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल को पार्टी महासचिव बनाया गया है। वह कर्नाटक के प्रभारी बने रहेंगे। वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया को पश्चिमी यूपी की कमान सौंपी गई है। गुलाम नबी आजाद से यूपी का प्रभार वापस ले लिया गया, उन्हें तुरंत प्रभाव से हरियाणा का प्रभार दिया गया है।
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा ने इस निर्णय पर कहा, ‘राहुल गांधी जो भी कहते हैं, वह करके दिखाते हैं। प्रियंका गांधी की नियुक्ति इस बात का संकेत है कि कांग्रेस का भविष्य उज्ज्वल है।’
राजनीति में प्रियंका की औपचारिक एंट्री पर उनके पति रॉबर्ट वाड्रा ने फेसबुक पर लिखा, ‘बधाई हो पी… मैं हमेशा तुम्हारे साथ हूं।’