श्वेत क्रान्ति के साथ स्वीट क्रान्ति भी किसानों की जरूरत-विनय कुमार सक्सेना

0
237
न्यूज चक्र @ बून्दी
केन्द्रीय खादी ग्राम उद्योग, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम मंत्रालय अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना ने कहा कि देश में श्वेत क्रान्ति के साथ ही स्वीट क्रान्ति की भी जरूरत है। इसी को देखते हुए खादी ग्रामोद्योग आयोग, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय भारत सरकार की ओर से देश में स्वीट हनी मिशन कार्यक्रम की शुरुआत की गई है। सक्सेना शनिवार को जिले की नैनवां तहसील के गुरजनिया गांव में स्वीट हनी मिशन कार्यक्रम के तहत आयोजित हनी बी बॉक्स, टूलकिट एवं प्रमाण पत्र वितरण समारोह में मधुमक्खी पालक किसानों को सम्बोधित कर रहे थे।
सक्सेना ने कहा कि यह मिशन किसानों की आय बढ़ाने के साथ ही 30 से 40 प्रतिशत ज्यादा फसल उत्पादन में भी सहायक है। इससे पर्यावरण को भी संरक्षण मिलता है। उन्होंने बताया कि अब तक देश में 60 हजार किसानों को हनी बी बॉक्स वितरित किए जा चुके हैं। इनसे किसानों को काफी लाभ मिल रहा है। आयोग अध्यक्ष ने कहा कि आने वाले समय में नैनवां का यह क्षेत्र शहद उत्पादन के लिए पहचाना जाएगा। उन्होंने बताया कि हाड़ोती अंचल के गुरजनिया गांव में आज स्वीट हनी मिशन क्रान्ति की शुरुआत की गई है। शीघ्र ही राजस्थान के अन्य जिलों में भी मिशन के तहत 1050 हनी बी बॉक्स एवं टूल किट वितरित किए जाएंगे।
कार्यक्रम में आयोग अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना ने मधुमक्खी पालक किसानों को 55 टूल किट, 200 बॉक्स एवं प्रशिक्षित किसानों को मधुमक्खी उन्मुखीकरण प्रशिक्षण प्रमाण पत्र प्रदान किए । इस अवसर पर खादी और ग्रामोद्योग आयोग जयपुर के राज्य निदेशक एके गर्ग, उपखंड अधिकारी नैनवा डॉ. पूजा सक्सेना, कृषि वैज्ञानिक नाथूलाल मीणा, नायब तहसीलदार गुर्जर एवं बड़ी संख्या में किसान मौजूद रहे।