अशोक गहलोत ही होंगे राजस्थान के सीएम, सचिन पायलट को डिप्टी सीएम का प्रस्ताव

0
274

न्यूज चक्र @ नई दिल्ली/जयपुर
राजस्थान में कांग्रेस की जीत के बाद से ही मुख्यमंत्री के नाम पर चल रहा घमासान चौथे दिन जाकर पूरी तरह खत्म हो गया। एआईसीसी,दिल्ली में शाम चार बजे बाद पत्रकारों को यह जानकारी दी गई। राहुल गांधी के द्वारा गहलोत और सचिन पायलट के बीच समझौता करवा देने के बाद यह सम्भव हो पाया। इसके अनुसार गहलोत मुख्यमंत्री व पायलट उप मुख्यमंत्री होंगे। राहुल गांधी के घर देर तक चली बैठक में यह मसला सुलझाया जा सका। इसमें पायलट और गहलोत भी मौजूद थे।
गौरतलब है कि राजस्थान के सीएम की रेस में गहलोत पहले से ही आगे चल रहे थे, लेकिन पायलट ने भी इसके लिए अपना दावा पेश कर उन्हें तगड़ी चुनौती दे रखी थी। यहां पार्टी आलाकमान ने तजुर्बे और युवा चेहरे के बीच तजुर्बे को अहमियत दी। गहलोत पहले भी दो बार राजस्थान के सीएम रह चुके हैं और राजनीति के मजे हुए खिलाड़ी हैं। वहीं पायलट राजस्थान में युवाओं के चहेते हैं। इसके अलावा कांग्रेस नेतृत्व के भी वह पसंदीदा चेहरे थे।
राजस्थान में सीएम के नाम पर मंथन के लिए शुक्रवार को भी प्रियंका गांधी राहुल के घर पहुंचीं। इस मसले को लेकर हुई निर्णायक बैठक में गहलोत व पायलट के अलावा राजस्थान के प्रभारी महासचिव अविनाश पांडे भी मौजूद थे।
उल्लेखनीय है कि राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ तीनों ही राज्यों में कांग्रेस ने जीत हासिल की है। राजस्थान की 200 सीटों में से कांग्रेस को 99 सीटें मिलीं, वहीं भाजपा के हिस्से में 73 सीटें आईं। मध्य प्रदेश की 230 में से 114 सीटें कांग्रेस को मिली हैं। वहीं छत्तीसगढ़ की 90 सीटों में 68 कांग्रेस के हिस्से में आईं।