राजस्थान भाजपा: पहली सूची में नाम नहीं आने से मंत्री से लेकर पदाधिकारी हुए बागी, पार्टी छोड़ ठोका खम

0
159

न्यूज चक्र @ जयपुर/सेन्ट्रल डेस्क
भाजपा के 131 प्रत्याशियों की रविवार देर रात जारी पहली सूची में नाम नहीं आने से नाराज नेताओं ने बगावत करनी शुरू कर दी है। टिकट कटने से नाराज होकर पार्टी छोड़ने का सिलसिला सुबह पूर्व प्रदेश महामंत्री से शुरू होकर दोपहर तक मंत्री के स्तर तक आ गया।
इस पहली सूची में नाम नहीं आने से दबी छुपी नाराजगी यूं तो कई जगह से सामने आ रही है, लेकिन पार्टी छोड़कर मैदान में उतरने की घोषणा दो ही दिग्गजों ने की है। इनमें कैबिनेट मंत्री सुरेन्द्र गोयल और पूर्व प्रदेश महामंत्री कुलदीप धनखड़ शामिल हैं। अन्य कई भाजपाईयों ने भी बगावती तेवर तो दिखाए हैं, मगर अभी तक पार्टी नहीं छोड़ी है।
कल देर रात सूची जारी होने के बाद सुबह सबसे पहले जयपुर के विराटनगर विधानसभा क्षेत्र से टिकट की दावेदारी कर रहे भाजपा के पूर्व प्रदेश महामंत्री कुलदीप धनखड़ ने मौजूदा विधायक फूलचंद भिंडा को टिकट देने का विरोध करते हुए पार्टी छोड़ने की घोषणा कर दी। वे अब निर्दलीय मैदान में उतरेंगे। धनखड़ 16 नवम्बर को विराटनगर से अपना नामांकन दाखिल करेंगे। धनखड़ ने अपना इस्तीफा प्रदेश अध्यक्ष और मुख्यमंत्री को भेज दिया है।
इसके बाद टिकट कटने से नाराज पाली जिले के जैतारण से विधायक एवं राज्य सरकार में जलदाय मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने भी बगावत कर दी। पार्टी ने यहां से इस बार गोयल का टिकट काटकर अविनाश गहलोत को मौका दिया है। नाराज गोयल ने दोपहर को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। वे 17 नवम्बर को निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन भरेंगे। गोयल के साथ ही जैतारण के अधिकांश पार्टी पदाधिकारियों ने भी बीजेपी छोड़ दी है। गोयल जैतारण से पांच बार विधायक रह चुके हैं।