अलौकिक समारोह: सरयू के तट पर 3 लाख से अधिक दीये जले, बना विश्व रिकॉर्ड

0
39

न्यूज चक्र @ सेन्ट्रल डेस्क/अयोध्या
भगवान राम की जन्मस्थली अयोध्या ने मंगलवार को छोटी दिवाली के अवसर पर सरयू नदी के तट पर तीन लाख से ज्यादा दीये जलाकर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कराया। भगवान श्री राम के समर्पित दिनभर चले इस दीपोत्सव समारोह में विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बाद शाम को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मुख्य अतिथि दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग सुक ने सरयू नदी के किनारे आरती की। आरती के दौरान पूरे सरयू तट को जगमगाते दीयों से सजाया गया। 3 लाख 1 हजार 152 दीयों से पूरा सरयू तट जगमगा उठा। इस दौरान सरयू का मनोरम दृश्य सबको अपनी ओर आकर्षित कर रहा था। दीपों की भव्य जगमगाहट देखते बन रही थी।
गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड के आधिकारिक निर्णायक रिषि नाथ ने यहां घाट पर दीपोत्सव के दौरान रिकॉर्ड बनाए जाने की घोषणा की। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग सुक की मौजूदगी में रिषि नाथ ने कहा, ‘‘पांच मिनट तक एक साथ कुल 3,01,152 दीये जले। यह नया रिकॉर्ड है।’’ राम की पैडी के दोनों तरफ घाट पर कुल 3.35 लाख दीये जलाने का लक्ष्य तय किया गया था। नए रिकॉर्ड को ‘‘अदभुत’’ बताते हुए रिषि नाथ ने कहा, ‘‘इसने हरियाणा में 2016 में बनाए गए रिकॉर्ड को तोड़ दिया। वहां पर 1 लाख 50 हजार 9 दीये जलाए गए थे।’
फैजाबाद अब अयोध्या कहलाएगा
इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया कि फैजाबाद जिला अब से अयोध्या के नाम से जाना जाएगा। उन्होंने कहा कि “अयोध्या हमारी ‘आन, बान और शान’ का प्रतीक है। कोई अयोध्या के साथ अन्याय नहीं कर सकता है।’’ उन्होंने अयोध्या में भगवान राम के नाम पर एक नया हवाई अड्डा और भगवान राम के पिता राजा दशरथ के नाम पर जिले में एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना की भी घोषणा की।
इस अवसर पर ‘राम की पैड़ी’ के पुन: विकास और सौंदर्यीकरण और सरयू नदी में मलजल प्रवाहित करने पर रोक लगाने सहित कई परियोजनाओं का शुभारम्भ किया। अपार जनसमूह इस भव्य ऐतिहासिक समारोह का गवाह बना। हर कोई इस अवसर पर भाव विभोर नजर आ रहा था, मगर सबकी एक ही मांग थी कि ‘सरकार जैसे भी हो जल्द भव्य राम मंदिर बनाए। इससे कम पर कुछ भी स्वीकार नहीं।’ कार्यक्रम की शुरुआत राम यात्रा से हुई। इसमें भगवान श्री राम के जीवन पर आधारित आकर्षक झाकियां शामिल थीं। कलाकार नाचते-गाते व विभिन्न करतब दिखाते चल रहे थे। समारोह स्थल पर राम, लक्ष्मण व सीता बने कलाकार प्रतीकात्मक पुष्पक विमान (हेलिकॉप्टर) से पहुंचे। यहां सीएम योगी व मुख्य अतिथि दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग सुक ने उनकी आरती उतारी व राजतिलक किया।