कायस्थ समाज ने उठाई मांग, चुनाव में दिए जाएं टिकट

राजस्थान कायस्थ समाज ने कांग्रेस और भाजपा से जोधपुर, अजमेर, बून्दी, मांडलगढ़ और ब्यावर से विधानसभा चुनाव में समाज के लोगों को टिकिट दिए जाने की मांग की, इन जगहों के लिए नाम भी सुझाए

0
234

न्यूज चक्र @ चित्तौड़गढ़/कोटा
राजस्थान के कायस्थ समाज बहुल विधानसभा क्षेत्रों में दोनों प्रमुख पार्टियों से चुनाव लड़ने के लिए समाज के काबिल लोग हैं। इसलिए पार्टियों को इन क्षेत्रों में इन्हें टिकट देने चाहिएं। राजस्थान कायस्थ सम्पर्क अभियान के संयोजक अनिल सक्सेना ने यह दावा किया है। इस सम्बन्ध में उन्होंने राज्य का दौरा कर एक रिपोर्ट तैयार की है।
अभियान के प्रवक्ता शाश्वत सक्सेना ने बताया कि अनिल सक्सेना ने राजस्थान कायस्थ सम्पर्क अभियान के तहत प्रदेश के कायस्थ बहुल जिलों जोधपुर, जयपुर, अजमेर, उदयपुर और कोटा में पाया कि इनमें भाजपा और कांग्रेस दोनों पार्टियों से चुनाव लड़कर जीतने की हैसियत रखने वाले कायस्थ प्रत्याशी मौजूद हैं। साथ ही ये समय आने पर किसी भी राजनैतिक दल का समीकरण बिगाड़ने की ताकत भी रखते हैं।
अनिल ने इस क्रम में भाजपा से जोधपुर के सुरसागर से पार्षद सीमा माथुर और अजमेर उत्तर से पूर्व पार्षद भारती श्रीवास्तव को टिकिट देने की मांग की है ।
वहीं कांग्रेस से मांडलगढ़ विधानसभा सीट के लिए पूर्व मुख्यमंत्री शिवचरण माथुर की पुत्री कांग्रेस की प्रदेश सचिव वन्दना माथुर, जोधपुर शहर के लिए कांग्रेस नेता पूर्व मंत्री मथुरादास माथुर के पौत्र सचिन माथुर ,पूर्व पार्षद ओमकार वर्मा, सुरसागर के लिए अनिल माथुर कोलारी, ब्यावर के लिए सेवादल के राष्ट्रीय सचिव कल्पना भटनागर और बून्दी से पूर्व जिला प्रमुख के पुत्र राजकुमार माथुर के लिए टिकिट मांगा है। अनिल सक्सेना ने अपनी मांग के साथ यह भी कहा है कि जो भी राजनैतिक दल कायस्थ समाज को उचित प्रतिनिधित्व देगा, उसी दल के साथ राजस्थान का कायस्थ समाज रहेगा ।