इंजीनियरिंग कॉलेज से तीन कश्मीरी आतंकी गिरफ्तार, एके 47, विस्फोटक, कारतूस बरामद

0
295

न्यूज चक्र @ सेन्ट्रल डेस्क
पंजाब और जम्मू-कश्मीर की पुलिस ने खुफिया सूचना पर संयुक्त रूप से छापेमार कार्रवाई करते हुए जालंधर (पंजाब) के सीटी इंस्टिट्यूट के हॉस्टल से तीन कश्मीरी छात्रों को गिरफ्तार किया। इनके कब्जे से एक एके 47, पिस्टल, बड़ी संख्या में कारतूस व भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया।
इस कार्रवाई में गिरफ्तार किए गए आतंकी कश्मीरी आतंकी गुट अंसार-गाजवत-उल-हिन्द (एजीएच) से जुड़े बताए गए हैं। डीजीपी सुरेश अरोड़ा खुद इस मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। सीटी इंस्टीट्यूट हॉस्टल के जिस कमरे से आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है, वह बीटेक (सिविल) के दूसरे सेमेस्टर के छात्र जाहिद गुलजार पुत्र गुलजार अहमद रादर निवासी राजपोरा, श्रीनगर के नाम आवंटित है। जाहिद के साथ मोहम्मद इदरिश शाह उर्फ नदीम व यूसुफ रफीक भट्ट को भी गिरफ्तार किया गया है। ये दोनों जम्मू-कश्मीर के पुलवामा निवासी हैं। इनसे एक एके 47 सहित एक पिस्टल, 900 कारतूस व भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री बरामद की है। इन तीनों आतंकियों के खिलाफ जालंधर सदर थाने में आईपीसी की धारा 121, 121ए, 120 बी आर्म्स एक्ट की धारा 25/54/59, एक्सप्लोसिव एक्ट की धारा 10/13/17/18/18 बी/20/38/39/40 अनलॉफुल प्रीवेंशन एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है।
डीजीपी सुरेश अरोड़ा व कमिश्नर पुलिस गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई भारत के पश्चिमी बॉर्डर पर आतंकवाद फैलाने की कोशिश कर रही है। डीजीपी अरोड़ा के मुताबिक, एक अन्य आतंकी गाजी अहमद मलिक, निवासी शोपियां, जम्मू-कश्मीर को पंजाब पुलिस ने हाल ही में पटियाला के बनूड़ स्थित अरयान्स ग्रुप ऑफ पॉलिटेक्निक से गिरफ्तार किया था। गाजी जम्मू-कश्मीर पुलिस के उस एसपीओ का करीबी रिश्तेदार है जो पीडीपी विधायक के श्रीनगर स्थित घर से 7 राइफल्स लेकर फरार हो गया था। इसके बारे यह आशंका व्यक्त की जा रही थी कि इसने आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन की सदस्यता हासिल कर ली है। इसे बाद में जम्मू-कश्मीर पुलिस के हवाले कर दिया गया था।
बुधवार को ही त्योहारी सीजन की शुरुआत हुई और पहला नवरात्र है। कुछ दिन बाद दशहरा व दीपावली का त्योहार है। आशंका है कि ये गिरफ्तार आतंकी इन त्योहारों के दौरान किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की तैयारी कर रहे थे।