राजस्थान: पेट्रोल-डीजल से 4 फीसदी वैट घटा, ढाई रुपए तक कम होगी कीमत

0
181

न्यूज चक्र @ जयपुर
राजस्थान सरकार ने कांग्रेस के भारत बंद के आह्वान से ठीक एक दिन पहले रविवार शाम को पेट्रोल-डीजल से चार फीसदी वैट घटाने की घोषणा कर दी। इससे दोनों की कीमत ढाई रुपए प्रति लीटर कम हो जाएगी। इससे राज्य सरकार पर करीब 2 हजार करोड़ रुपए का भार पड़ेगा। इस फैसले के बाद मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि यह सरकार जनता की है। जनता की आवाज पर ही पेट्रोल-डीजल से वैट कम किया गया है।
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मदल लाल सैनी ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने पेट्रोल डीज़ल की दरें कम कर ऐतिहासिक क़दम उठाया है। उन्होंने हमेशा जनता के हित में कदम उठाए हैं। महंगाई को रोकने के लिए ये कदम जनता के लिए राजस्थान की अब तक की सरकारों में उठाया गया सबसे बड़ा कदम है।
केन्द्र और राजस्थान की सरकारों ने महंगाई को रोकने के लिए बड़े बड़े कदम उठाए हैं। कांग्रेस के राज में जनता महंगाई से त्रस्त थी। भाजपा की सरकारें बनने के बाद महंगाई पर लगाम लगी है। हर तरफ जनता इस निर्णय की प्रशंसा कर रही है ।
जो वैट बढ़ाया था वो वापस लिया: सचिन
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि राज्य की भाजपा सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर 4 साल पहले जो वेट बढ़ाया था, वो वापस लिया है। वहीं ये कह रहे हैं कि इससे घाटा होगा। मगर घाटा किस बात का? अब तक हजारों करोड़ वसूले जा चुके हैं। उन्होंने आगे कहा कि यह निर्णय भी तब लिया है जब पूरा प्रदेश उनके विरोध में हो गया है। अब इसमें बहुत देर हो चुकी है। यह भी कांग्रेस की ओर से भारत बंद का कॉल किए जाने के दबाव में लिया गया। वो भी जब चुनाव आ गए हैं।
हमारे दबाव से झुकी सरकार: गहलोत
पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत ने इस फैसले पर कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को कांग्रेस के सोमवार के भारत बंद को मिल रहे जन समर्थन को देखते हुए दबाव में आकर पेट्रोल-डीजल पर वैट कम करना पड़ा। गहलोत ने कहा कि पेट्रोल-डीजल की बढ़ी हुई दरों को देखते हुए जो 4 प्रतिशत वैट कम किया है, वह नाकाफी है। रसोई पर बढ़ते महंगाई के दबाव को देखते हुए अविलम्ब गैस सिलेंडर पर भी राहत दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि हमने कांग्रेस शासन में प्रति सिलेण्डर 25 रुपए कम किए थे। अब गैस सिलेण्डर की बढ़ी दरों को देखते हुए कम से कम 100 रुपए कम किए जाने चाहिए।