मणिशंकर अय्यर की कांग्रेस में वापसी

0
81
मणिशंकर अय्यर पाकिस्तान में प्रसन्न मुद्रा में (फाइल फोटो)

न्यूज चक्र @ सेन्ट्रल डेस्क
अपने विवादित बयानों के कारण सुर्खियों में रहने वाले मणिशंकर अय्यर की कांग्रेस में वापसी हो गई है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अय्यर का निलम्बन रद्द कर दिया है। गत वर्ष गुजरात विधानसभा चुनाव के समय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए ‘नीच किस्म का आदमी’ वाली टिप्पणी करने की वजह से अय्यर को पार्टीे ने निलम्बित कर दिया था।
कांग्रेस के संगठन महासचिव अशोक गहलोत की ओर से जारी बयान के अनुसार, ”पार्टी की केन्द्रीय अनुशासन समिति की अनुशंषा पर राहुल गांधी ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से अय्यर का निलम्बन तत्काल प्रभाव से रद्द करने को मंजूरी प्रदान की।”
यह था मामला
अय्यर ने गत वर्ष दिसम्बर माह में गुजरात में चुनाव से कुछ दिन पूर्व प्रधानमंत्री के बारे में विवादित टिप्पणी की थी, जिसे खुद मोदी और भाजपा ने चुनावी सभाओं में जोर-शोर से उठाया था। राहुल गांधी और पार्टी ने अय्यर की टिप्पणी को खारिज करते हुए उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलम्बित कर दिया था।
ऐसे चला घटनाक्रम
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली में आम्बेडकर इंटरनेशनल सेंटर का उद्घाटन किया था‌। इस मौके पर बिना नाम लिए पीएम मोदी ने नेहरू-गांधी परिवार पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा, ‘’एक परिवार को आगे ले जाने के लिए राष्ट्र निर्माण में बाबा साहेब के योगदान को दबाया गया।’’ साथ ही पीएम मोदी ने राहुल पर भी तंज कसा और कहा, ”पहले पार्टियां बाबा साहेब के नाम पर वोट मांगती थीं, अब बाबा भोलेनाथ याद आते हैं।”मोदी के इस बयान पर मणिशंकर ने उन्हें नीच कह डाला।
उन्होंने कहा था, ”अम्बेडकर जी की जो सबसे बड़ी ख्वाहिश थी, उसे साकार करने में एक व्यक्ति का सबसे बड़ा योगदान था और उनका नाम था जवाहर लाल नेहरू। अब इस परिवार के बारे में गंदी बातें कहें और वो भी जबकि अम्बेडकर जी याद में एक बहुत बड़ी इमारत का उद्घाटन हो रहा है। मुझे लगता है ये आदमी बहुत नीच किस्म का आदमी है। इसमें कोई सभ्यता नहीं है, ऐसे मौके पर इस प्रकार की राजनीति की क्या आवश्यकता है।”
मणिशंकर के इस बयान पर पीएम मोदी ने सूरत रैली में निशाना साधा। उनके बयान पर गुजरात प्रचार के आखिरी दिन सूरत में पीएम मोदी ने जमकर हमला किया। उन्होंने मणिशंकर अय्यर के बयान को गुजरात का अपमान बताया। उन्होंने कहा, “ऊंच-नीच इस देश के संस्कार नहीं हैं, मुगल संस्कार वालों को मेरे जैसे का अच्छा कपड़ा पहनना सहन नहीं होता। मैं भले नीच जाति का हूं, लेकिन काम ऊंचे किये हैं। ” राहुल गांधी की नाराजगी के बाद मणिशंकर अय्यर ने अपने बयान पर खेद व्यक्त किया था।