सीईओ का पद सम्भालते ही बैरवा ने अधिकारियों को ये बताई अपनी मंशा

0
204
कोटा। नवनियुक्त सीईओ बीएम बैरवा।

न्यूज चक्र @ कोटा
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग की सभी योजनाओं की प्रगति पर विशेष जोर दिया जाएगा। राज्य सरकार की फ्लेगशिप योजनाओं पर भी खासा फोकस रहेगा। जिला परिषद के नवनियुक्त सीईओ बीएम बैरवा ने सोमवार सुबह पदभार ग्रहण करने के ठीक बाद अधिकारियों की बैठक में यह बात कही। बैरवा ने निवर्तमान सीईओ आरडी मीणा से चार्ज लिया है।
सीईओ बैरवा ने बैठक में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग की योजनाओं से सम्बंधित अधिकारियों से चालू वित्तीय वर्ष में राज्य स्तर पर जिले की योजनावार स्थिति व योजनाओं की गाइड लाइन की जानकारी ली। साथ ही उन्हें राज्य सरकार की फ्लेगशिप योजनाओं पर पूरी तरह ध्यान देने और इन योजनाओं का ग्रामीणों तक अधिकाधिक लाभ पहुंचाने के लिए हर समय प्रयासरत रहने के निर्देश भी दिए।
उन्होंने अधिकारियों की बैठक लेने के बाद कार्यालय का निरीक्षण किया। इसमें योजनाओं के कार्यालयों में जाकर अधिकारियों व कर्मचारियों से उनकी कार्यशैली के बारे में जाना। साथ ही उन्हें समय की पाबंदी व काम के प्रति जवाबदेह रहने की नसीहत दी। कार्यालय की स्वच्छता को भी महत्वपूर्ण बताया। बैरवा इससे पूर्व राजसमन्द में अतिरिक्त कलक्टर के पद पर कार्यरत थे। उनके पदभार ग्रहण करने पर जिला प्रमुख सुरेन्द्र गोचर, एसीईओ मुरारी लाल वर्मा आदि अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों ने बधाई दी।
एक्सईएन ने तकनीकी सहायकों को दी जानकारी
महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत सोमवार को ही अनुबन्ध पर भर्ती हुए तकनीकी सहायकों को अधिशाषी अभियंता प्रियव्रत सिंह ने योजना से सम्बंधित तकनीकी जानकारी दी व रिकॉर्डों का अवलोकन भी करवाया। नरेगा कार्यालय में तकनीकी सहायकों को मस्टररोल, जाॅबकार्ड, मार्गदर्शिका पुस्तिका, एमबी व कन्वर्जन्स के तहत होने वाले कार्यों तथा लेबर व मटेरियल कम्पोनेन्ट के बारे में बताया। इस दौरान सिंह ने नरेगा कार्यस्थलों पर कार्यों का निरीक्षण एवं माप के साथ-साथ तकमीने बनाने सम्बंधी जानकारियों से भी अवगत कराया। इसके पूर्व इन कार्मिकों को ब्लाॅक सन्दर्भ व्यक्तियों के प्रशिक्षण के दौरान भी योजना, अधिनियम व प्रावधानों की जानकारी भी विशेषज्ञों द्वारा दी गई।