जयपुर: मोदी के लिए अभूतपूर्व सुरक्षा व्यवस्था, पहली बार ड्रोन का इस्तेमाल

0
413

न्यूज चक्र @ जयपुर
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 7 जुलाई को जयपुर दौरे के मद्देनज़र एयरपोर्ट से सभा स्थल तक पूरे शहर को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस का कड़ा पहरा है। हर आने-जाने वाले पर सीसी टीवी कैमरों से पैनी निगाह रखी जा रही है। कार्यक्रम स्थल अमरूदों का बाग की सुरक्षा व्यवस्था भी चाक-चौबंद कर दी गई है।
मोदी के दौरे से एक दिन पूर्व शुक्रवार शाम से ही सभा स्थल एसपीजी के कंट्रोल में चला गया है। बिना पास किसी को भी सभा स्थल पर नहीं आने दिया जा रहा है। इससे पहले दिन में सुरक्षा व्यवस्था का रिहर्सल भी किया गया। अमरूदों के बाग में पीएम की सभा के लिए हाईटेक इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा व्यवस्था से लेकर सभा की बाकी व्यवस्थाओं तक की मॉनिटरिंग आला अफसरों से लेकर मंत्री तक कर रहे हैं।
एयरपोर्ट से लेकर सभा स्थल और एसएमएस स्टेडियम में विशेष सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं। एसएमएस स्टेडियम से सभा स्थल के लिए रिहर्सल की गई है। इसमें प्रधानमंत्री जिस वाहन में बैठेंगे उसे भी शामिल किया गया।साथ ही जयपुर में बड़ा पुलिस जाप्ता लगाया गया है। जयपुर पुलिस प्रधानमंत्री की यात्रा के रूट पर निगाह रखने के लिए पहली बार ड्रोन का इस्तेमाल कर रही है।
ऐसी रहेगी सुरक्षा व्यवस्था
प्रधानमंत्री की सुरक्षा व्यवस्था के लिए राजस्थान पुलिस ने शहर में 19 एसपी सहित 8000 पुलिसकर्मी तैनात किए हैं। पीएम की सभा के दौरान शहर में 79 अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, 90 उप अधीक्षक, 196 पुलिस निरीक्षक और 676 थानेदार (एसआई, एएसआई) भी तैनात रहेंगे। इसके अतिरिक्त आरएसी की दस कम्पनियां भी तैनात रहेंगी।
परमिट मुक्त राजस्थान
प्रधानमंत्री मोदी के जयुपर दौरे को लेकर प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है। परिवहन विभाग ने 7 जुलाई को सभी वाहनों को परमिट की आवश्यकता से मुक्त कर दिया है। इस‌ दिन राज्य के सभी जिलों ही नहीं अन्य राज्यों से भी जयपुर आने-जाने वाले यात्री वाहनों को परमिट की अनिवार्यता से मुक्त कर दिया गया है। राज्य सरकार ने मोटर वाहन अधिनियम, 1988 की धारा के तहत प्रदत शक्तियों के तहत लोकहित में यह निर्णय लिया है। परिवहन विभाग की ओर से जारी अधिसूचना के अनुसार केन्द्रीय मोटर यान अधिनियम 1988 की धारा के तहत प्रधानमंत्री के एक दिवसीय राजकीय कार्यक्रम के लिए 7 जुलाई को राजस्थान राज्य के सभी जिलों एवं अन्य राज्यों से जयपुर को आने-जाने वाले सभी यात्री वाहनों को परमिट की आवश्यकता से मुक्त किया जाता है।
जनसभा में पीएम इनसे करेंगे बात
प्रधानमंत्री अपने दौरे के दौरान केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं से लाभावंति लाभार्थियों से संवाद करेंगे। उनकी जनसभा में तीन लाख लोगों के आने का लक्ष्य रखा गया है। पीएम मोदी के दौरे को भव्य व यादगार बनाने के लिए राज्य सरकार जी जान से जुटी हुई है। शहर के सभी स्कूलों में इस दिन छुट्टी घोषित कर दी गई है। सभी जिला कलक्टरों को भी जिम्मेदारियां दी गई हैं।