बून्दी: जिला प्रभारी मंत्री ने किसानों को सौंपे ऋण मुक्ति प्रमाण पत्र

फसली ऋण माफी योजना का बून्दी में शुभारम्भ, 453 किसानों का 140.47 लाख रुपए का ऋण माफ

0
212

न्यूज चक्र @ बून्दी
मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की बजट घोषणा ‘राजस्थान फसली ऋण माफी योजना’ का सोमवार को जिले में शुभारम्भ हुआ। गोपालन राज्य मंत्री एवं बून्दी जिला प्रभारी मंत्री ओटाराम देवासी ने भैरूपुरा ओझा गांव से इस योजना की शुरुआत करते हुए सांकेतिक तौर पर छह किसानों को ऋण मुक्ति प्रमाण पत्र प्रदान किए। इस ग्राम सहकारी समिति अन्तर्गत 453 किसानों को 140.47 लाख की ऋण राशि से मुक्ति का तोहफा दिया गया है। योजना के तहत जिले में सीमान्त, लघु तथा दो हेैक्टेयर से अधिक भूमि पर खेती करने वाले कुल 50331 किसान लाभान्वित होंगे।
भैरूपुरा ओझा गांव में आयोजित ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण समारोह को सम्बोधित करते हुए जिला प्रभारी मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार किसानों को उनकी मेहनत का मोल दिलाने और उन्हें मजबूत बनाने के प्रति लगातार अपनी जिम्मेदारी निभा रही है। ऋण माफी के साथ किसान के स्वावलम्बन और सुदृढ़ीकरण की सरकार को चिंता है। फसली ऋण माफी योजना में अभी किसानों का 50 हजार रुपए का ऋण माफ हुआ है, लेकिन 16 हजार करोड़ रुपए नए खाते के रूप में सरकार इन किसानों को प्रदान करने की मंशा रखती है, ताकि धरतीपुत्रों की खेती-किसानी को सम्बल मिल सके। उन्होंने कहा कि खाद बीज के लिए अब किसानों को भटकना नहीं पड़ता है। ग्राम सेवा सहकारी समिति के माध्यम से इसकी सुचारू व्यवस्था की गई है।
गोपालन राज्य मंत्री ने कहा कि वर्ष 2017-18 में 140 करोड़ रुपए गौशालाओं को दिए गए हैं, जबकि 2018-19 में 112 करोड़ रुपए गौशालाओं को देने का प्रावधान किया है। आमजन के लिए क्या श्रेष्ठतम कर सकें, यही हमारी सोच है। राज्य सरकार ने जन कल्याण की भावना से कई अनुपम पहल की है। घूघरी से शुरू हुए पोषाहार को सरकार ने दूध वितरण के निर्णय से अधिक पौष्टिक व गुणवान बनाने की पहल की है।
विधायक अशोक डोगरा नेे कहा कि राज्य सरकार ने इस अनूठी योजना का आरम्भ कर किसानों के सिर से कर्जे का बोझ हल्का किया है, 50 हजार तक के ऋण तो पूरे ही माफ हो गए हैं। इस योजना से हमारे किसान सशक्त होंगे तथा खेती किसानी में उन्नति हो सकेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की हर योजना जनकल्याण की मंशा से शुरू की गई है, जिनसे कोई वर्ग अछूता नहीं है।
जिला कलक्टर महेश चन्द्र शर्मा ने कहा कि फसली ऋण माफी योजना राज्य सरकार का ऐतिहासिक निर्णय है। किसानों की हर समस्या के लिए सरकार ने बढ़-चढ़ कर मदद का हाथ बढ़ाया है। बून्दी में किसानों के लहसुन की समर्थन मूल्य पर खरीद की व्यवस्था के लिए तत्काल कदम उठाए गए तथा अन्य जिंसों की भी समर्थन मूल्य पर खरीद की गई है। न्याय आपके द्वार अभियान के माध्यम से बरसों पुराने प्रकरणों का निस्तारण कर लोगों को राहत पहुंचाई जा रही है।
इससे पहले अतिरिक्त कलक्टर ममता तिवाड़ी ने योजना के आरम्भ पर मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे का किसानों के नाम संदेश पढ़ कर सुनाया। आरम्भ में दी सेन्ट्रल को-ऑपरेटिव बैंक के प्रबंध निदेशक सत्यवीर सिंह ने योजना की जानकारी दी। ग्राम सेवा सहकारी समिति भैरूपुरा ओझा के अध्यक्ष बाबूलाल राठौड़ व पवन बैरागी ने विचार व्यक्त किए। समारोह में भाजपा जिलाध्यक्ष महिपत सिंह हाड़ा सहित शक्ति सिंह, क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में किसान व आम ग्रामीण भी मौजूद रहे।
खटकड़ में मंगलवार को लगेगा शिविर
राजस्थान फसली ऋण माफी योजना के तहत मंगलवार को खटकड़ ग्राम सेवा सहकारी समिति में शिविर लगाया जाएगा। नोडल अधिकारी मोहनलाल जाट ने बताया कि खटकड़ में 394 किसानों का 129.87 लाख रुपए के ऋण माफ कर उन्हें प्रमाण पत्र प्रदान किए जाएंगे। इसके बाद लगातार जिले में सभी ग्राम विकास सहकारी समितियों में 20 जून तक शिविर लगाकर सभी पात्र किसानों को लाभान्वित किया जाएगा।