आसफ़िया वेलफेयर सोसायटी गरीबों की मदद और सामूहिक विवाह को देगी प्राथमिकता

0
269

न्यूज चक्र @ कोटा
आसफ़िया वेलफेयर सोसायटी की मीटिंग रविवार को जेडीबी कॉलेज के सामने स्थित शहीद स्मारक गार्डन में हुई। इसमें नव निर्वाचित सदर सुल्तान वाजिद शेरवानी और जनरल सेक्रेट्री जाकिर हुसैन ने अपनी कार्यकारिणी घोषित की।
सोसायटी के प्रवक्ता आज़ाद शेरवानी ने बताया कि कार्यकारिणी में मो.रहीम पठान केशियर, अब्दुल हनीफ कन्वीनर, हाजी सैयद अहसान अली, हाजी सिद्दीक हुसैन, हाजी जकरिया सुल्तान व हाजी वहीदुल्ला खान सरपरस्त बनाए गए। वहीं अब्दुल रहमान कुरेशी नायब सदर,असीम अहसान शेरवानी ज्वॉइंट सेक्रेट्री, मास्टर जाकिर हुसैन नायब केशियर, आज़ाद शेरवानी प्रचार प्रसार व प्रेस सेक्रेट्री,मोहम्मद साबिर को वित्तीय सलाहकार नियुक्त किया गया। वहीं राजू पठान,नासिर सुल्तान, सदाकत हुसैन गौरी, आसिफ़ आसफी, जावेद शेरवानी, यकीनुद्दीन, मो. इरफ़ान शेरवानी, मो. मुश्ताक, मो. अनीस मिर्ज़ा व रहीम बेग को काबीना मेम्बर्स बनाया गया। आसिफ़ खान, गाज़ी पठान,कामरान अली, मो. इरशाद शेरवानी, वसीम अहमद, इमरान अली, मो. यक़ीन, इसरार अली, आसिफ़ अली, नसरत हुसैन गौरी, मो. सलीम, अशरत हुसैन, असलम हुसैन, मो. जमील, डॉक्टर आबिद अली,डॉक्टर शादाब अहमद,सनव्वर बेग, मो. वाहिद, ईनामुर्रहमान,लियाकत भाई, हारून हुसैन,मोइन खान व ज़फरउद्दीन कार्डिनेटर बनाए गए हैं।
नई केबिनेट ने आमराय से तय किया कि बिरादरी में फिजूलखर्ची पर रोक लगाई जाएगी। इसके लिए नई केबिनेट का सबसे पहला लक्ष्य बिरादरी में ईज्तेमाई शादी (सामूहिक विवाह) करवाना और गरीब तबके की मदद के लिए काम करना है। आसफ़िया बिरादरी की ईज्तेमाई शादी (सम्मेलन) के लिए 11 नवम्बर की तारीख तय की गई। इसके लिए एक अलग से कमेटी बनाई गई। इसमें सदर अब्दुल रहमान कुरेशी, सेक्रेट्री राजू पठान व केशियर असीम अहसान शेरवानी को शामिल किया गया। ये अपनी टीम के साथ इसे अंजाम देंगे। साथ ही गरीब तबके की मदद के लिए बिरादरी के सम्पन्न लोगों से जकात फितरा इकट्ठा करने पर भी ज़ोर दिया जाएगा। इसकी जिम्मेदारी अब्दुल हनीफ (बाबू भाई) को दी गई। ये अपनी टीम के साथ फण्ड इकट्ठा करके जरूरतमंद गरीबों तक पहुंचाएंगे। सोसायटी इसी तरह बिरादरी की भलाई के लिए अपनी जिम्मेदारी निभाती रहेगी l