मंत्री के सामने ही भिड़े विधायक प्रहलाद गुंजल व चन्द्रकांता मेघवाल, भाषा की मर्यादा लांघी

0
226

न्यूज चक्र @ कोटा
राज्य के कृषि मंत्री एवं जिला प्रभारी मंत्री प्रभुलाल सैनी के सामने शनिवार को विधायक प्रहलाल गुंजल और चन्द्रकांता मेघवाल का पुराना मनमुटाव एक बार फिर जिस रूप में सामने आया, उसने पूरी भाजपा को शर्मसार कर दिया। विकास कार्यों की विभागवार हो रही समीक्षा बैठक में यह वाकया हुआ।
बैठक मंत्री सैनी की अध्यक्षता में हो रही थी। इस दौरान शहरी गौरव पथ निर्माण के सम्बन्ध में चर्चा जारी थी। रामगंजमंडी विधायक चन्द्रकान्ता मेघवाल ने इस मुद्दे पर अपनी बात रखनी शुरू की। इस पर कोटा उत्तर विधायक प्रहलाद गुंजल ने उनके क्षेत्र में गौरव पथ का निर्माण हो चुकने की बात कही। चन्द्रकान्ता ने इसका विरोध करते हुए कहा कि बंधा धर्मपुरा में कॉलोनियों का विकास नहीं हो रहा है। उनका विकास कार्य पूरा होने के बाद ही अंडरपास बनाया जाए। इससे पहले कॉलोनीवासियों को मूलभूत सुविधाएं दी जानी चाहिएं। चन्द्रकान्ता का आरोप है कि इसी बीच गुंजल ने उनके लिए कहा कि ‘दो कौड़ी की नेता राजनीति में पहुंच जाती है।’ इस पर तमतमाई चन्द्रकान्ता ने भी गुंजल को भी दो कौड़ी का बता डाला। गुंजल और चन्द्रकांता के बीच‌ इसके बाद भी गर्मागरम बहस होती रही। चन्द्रकांत ने गुंजल से कह दिया कि ‘मेरे बीजेपी में रहने से आपत्ति हो तो बता दें। इसके बाद वे बैठक छोड़कर बाहर चली गईं। उन्होंने इस मामले की शिकायत सीएम से करने की बात कही। वहीं विधायक गुंजल ने चन्द्रकांता के बारे में किसी भी अभद्र टिप्पणी से साफ इनकार कर दिया। जबकि प्रभारी मंत्री सैनी ने इस घटनाक्रम को परिवार का मामला बताया। साथ ही विधायकों को संयमित रहने की नसीहत दी। इस आकस्मिक घटनाक्रम से सैनी सहित बैठक में मौजूद सभी भाजपाई जनप्रतिनिधि व अधिकारी हतप्रभ रह गए।