बून्दी: सीवरेज लाइनों के बेतरतीब काम पर कांग्रेस ने उठाई आवाज

0
135

न्यूज चक्र @ बून्दी
शहर में एक साल से भी अधिक समय से सीवरेज लाइनों की खुदाई के चल रहे बेतरतीब काम पर कांग्रेस के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता प्रकोष्ठ ने आवाज उठाई है। इस मसले को लेकर प्रकोष्ठ की ओर से बुधवार को राज्यपाल और मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजे गए।
संगठन के प्रदेश सचिव गयासुद्दीन भट्टी व जिलाध्यक्ष गुलशन नायक ने ज्ञापन में कहा है कि ठेकेदार ने सीवरेज लाइनों के लिए शहर में जगह-जगह सड़कों को खोद कर डाल रखा है, गड्ढ़े खोदे हुए हैं। काफी समय बीत जाने के बावजूद इन्हें दुरुस्त नहीं किया गया है। इ‌सके चलते शहरवासी रोज दुर्घटनाओं का शिकार हो रहे हैं। लोग वाहन सहित गड्ढ़ों में गिर‌ जाते हैं। ज्ञापन में ऐसे हादसों के कारण कई लोगों की मौत हो जाने का दावा भी किया गया है। साथ ही कहा गया है कि इन खबरों के मीडिया में आने के बावजूद हालात सुधारने के लिए कोई गम्भीर प्रयास नहीं किए‌ जा रहे हैं। ज्ञापन के अंत में चेतावनी दी गई है कि शीघ्र ही सम्बन्धित विभाग व ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो प्रकोष्ठ जनआंदोलन चलाने को मजबूर होगा।
सीएम के समक्ष लोकेश ठाकुर जता चुके हैं आक्रोश
उल्लेखनीय है कि सीवरेज लाइनों की खुदाई कर गड्ढ़ों को नहीं भरे जाने की समस्या से शहरवासी कई महीनों से जूझ रहे हैं। इसके बावजूद विपक्षी दल कांग्रेस के बड़े नेताओं की चुप्पी सवालों के घेरे में रही है। इस सिलसिले को गत वर्ष सितम्बर माह में यहां सीएम वसुंधरा राजे के दौरे के दौरान नगर परिषद में प्रतिपक्ष नेता व युवा कांग्रेसी लोकेश ठाकुर ने अपने दम पर ही भारी आक्रोश दिखा कर तोड़ा था। उस समय सरकार व प्रशासन की ओर से जल्द ही सबकुछ सही कर देने का आश्वासन दिया गया था। मगर इसे भी सात माह से अधिक गुजर जाने के बावजूद हालात में खास सुधार नहीं है। आमजन इसके चलते विधायक अशोक डोगरा सहित उनके निकटतम नगर परिषद के सभापति महावीर मोदी से खासे नाराज हैं। नगर परिषद की ओर से शहर के लिए समय-समय‌ पर बड़ी-बड़ी घोषणाएं तो की जाती रही हैं, मगर ऐसी जनसमस्याओं के इलाज के लिए कोई गम्भीरता नहीं दिखाई गई है। इसका खामियाजा आगामी विधानसभा चुनाव में बीजेपी को भुगतना तय है।