पार्षद हुसैन ने निगम के बाहर दिया धरना. महापौर की समझाइश से हुआ समाप्त

0
167

न्यूज चक्र @ कोटा

कैथूनीपोल चौराहे पर स्थित मस्जिद एवं मंदिरों के पास से अवैध गुमटियों को हटाए जाने की मांग पर पार्षद मोहम्मद हुसैन ने अपनी पूर्व चेतावनी के अनुसार आज शुक्रवार अपराह्न 3 बजे से नगर निगम के बाहर धरना शुरू किया। मगर बाद में महापौर महेश विजय की समझाइश से धरना समाप्त कर दिया गया।
अनिश्चित कालीन धरने पर बैठे पार्षद हुसैन को शाम 6 बजे करीब महापौर विजय ने वार्ता का आमंत्रण दिया। इसमेें विजय ने बताया कि विवादित एक गुमटी के लिए तो वर्ष 2011 से हाईकोर्ट से स्टे लिया हुआ है। बाकी सभी गुमटियों का किराया भी नगर निगम कई वर्षों से वसूल रहा है। इस पर हुसैन ने धार्मिक स्थलों के बाहर किए अतिक्रमण से किराया वसूली पर आपत्ति जताई व किरायेदारी निरस्त कर गुमटी वालों को कहीं और जगह देने की मांग की। महापौर विजय ने इस पर सहमति जताते हुए माना कि गुमटियां गलत लगी हुृई हैं। इनकी किरायेदारी कैसे शुरू हुई, इसे दिखाया जाएगा। हुसैन ने महापौर की समझाइश पर धरना समाप्त कर दिया। साथ ही मंगलवार को अयुक्त डॉ. विक्रम जिंदल से महापौर की मध्यस्थता में मांग पर कार्रवाई के लिए चर्चा का निर्णय लिया गया। इस मौके पर अरफिन खान, इमरान खान, सद्दाम खान, अशोक खुबचंदानी, सोनू शर्मा, समीउल्ला अंसारी, सब्बीर कुरैशी, हेमराज महावर, अरबाज खान, रिजवान, कालू सरफराज, अकील, मुन्ना अब्बासी, शफी मोहम्मद आदि मौजूद थे।