छात्राओं को मुर्गा बना बुरी तरह पीटा, अस्पताल में भर्ती

0
217

न्यूज चक्र @ सीकर
एक छोटी सी बात पर स्कूल में छात्राओं को ऐसी सजा मिली कि कोई भी सिहर जाए, लेकिन टीचर को कोई फर्क नहीं पड़ा। पढ़ने के लिए स्कूल आने वाली छात्राओं को शर्मनाक सजा दी गई। इससे  उनकी तबीयत खराब हो जाने पर अस्पताल में भर्ती होना पड़ा।
यह चौंकाने वाला मामला सदर थाना क्षेत्र के सबलपुरा गांव स्थित राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय का है। यहां छोटी सी बात को लेकर प्रिंसिपल इतनी नाराज हो गईं कि उन्होंने छात्राओं को मुर्गा बनाने का फरमान सुना दिया। ये फरमान छात्राओं द्वारा प्रार्थना धीमी आवाज में गाने पर सुनाया गया। इसके बाद करीब घंटेभर तक प्रिंसिपल ने छात्राओं को मुर्गा बनाए रखा। इनमें से जो छात्राएं इतनी देर मुर्गा बनी नहीं रह सकीं, उन्हें पीटा गया। मारपीट से घायल चार छात्राओं की तबीयत बिगड़ गई। इस पर उन्हें सीकर के कल्याण अस्पताल में भर्ती करवाया गया।
यहां पीड़ित छात्राओं ने बताया कि स्कूल में आज सुबह धीमी आवाज में स्कूल की प्रार्थना बोलने पर प्रिंसिपल मनीषा चौधरी ने उन्हें मुर्गा बना दिया और जमकर पिटाई की। इसके बाद तबीयत खराब होने पर उन्हें एसके अस्पताल लाया गया। यहां से उन्हें बाद में छुट्टी दे गई। उधर आरोपी स्कूल प्रिंसिपल मनीषा चौधरी ने मारपीट की घटना से इनकार किया है।