पहले एक-एक करोड़ दे चुके केजरीवाल इस शोक सभा में मुआवजे के सवाल पर भाग छूटे

0
261

न्यूज चक्र @ नई दिल्ली / सेन्ट्रल डेस्क
दिल्ली के ख्याला क्षेत्र में मंगलवार को अंकित सक्सेना की उठावनी रस्म में उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। श्रद्धांजलि सभा में बड़ी संख्या में अंकित के रिश्तेदार और स्थानीय लोग पहुंचे। एक मुस्लिम लड़की से प्रेम के चलते उसके परिजनों ने गत दिनों अंकित की हत्या कर दी गई थी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी भी श्रद्धांजलि देने पहुंचे। लेकिन इस शोकसभा के दौरान कुछ ऐसा हुआ जो मीडिया की सुर्खियां बन गया। दरअसल सोशल मीडिया पर आम आदमी पार्टी के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने एक वीडियो डाला, जिसमें केजरीवाल मुआवजे की बात सुनकर शोकसभा से बाहर जाते हुए दिख रहे हैं।
इस वीडियो में दिख रहा है कि अंकित सक्सेना की शोकसभा चल रही है, जहां केजरीवाल भी अपने पार्टी के नेताओं के साथ पहुंचे हैं। वीडियो शुरू होता है तो केजरीवाल कहते हैं कि मैं नहीं चाहता कि यहां राशि को लेकर कोई वाद-विवाद हो।
इसके बाद केजरीवाल के सामने बैठा एक शख्स सीएम से माइक लेता है और पूछता है कि जीवन-यापन कैसे होगा, बस उसके लिए और कुछ नहीं है उसके अलावा।
वह शख्स अपनी बात भी पूरी नहीं कर पाता है और केजरीवाल वहां से उठ खड़े होते हैं और निकल जाते हैं। जाते वक्त पीछे से उन्हें कोई मिस्टर केजरीवाल कहकर आवाज भी लगाता है, लेकिन वह नहीं रुकते।
इस वीडियो को डालकर कपिल मिश्रा ने सवाल पूछे हैं: सीन 1- केजरीवाल जी अंकित सक्सेना के परिवार से सीन2- केजरीवाल जी एमएम खान जी और तनजीम अहमद के परिवार से ये फर्क क्यों? इसे देखने के बाद आज रात सो नहीं पाएंगे। ये इस देश में मजहब की राजनीति का सबसे गंदा चेहरा हैं। Watch Scene 1 – Kejriwal to family of #AnkitSaxena Ji Scene 2 – Kejriwal to families of MM Khan Ji & Tanzeem Ahmed Ji ये फर्क क्यों??? इसे देखने के बाद आज रात आप सो नहीं पाएंगे। ये इस देश मे मजहब की राजनीति का सबसे गंदा चेहरा हैं। pic.twitter.com/DL1Vpb5rG6 — Kapil Mishra (@KapilMishra_IND) February 12, 2018
गौरतलब है कि कपिल मिश्रा ने अपने ट्वीटर में जिन तंजीम अहमद व एमएम खान का जिक्र किया है, सीएम केजरीवाल ने इनकी हत्या पर इनके परिजनों को एक-एक करोड़ रुपए की सहायता दी थी। यह सहायता घोषित करते हुए केजरीवाल ने एक-एक करोड़ को छोटी-छोटी राशि बताया था। मगर अंकित सक्सेना की शोकसभा में जब किसी ने उनके सामने मुआवजे का सवाल उठाया तो वे गोलमोल जवाब देते हुए वहां से रवाना हो गए। इस अपमान पर अंकित के पिता यशपाल सक्सेना फूट-फूट कर रो पड़े। उन्होंने कहा-हमें अकेला छोड़ दो, इस तरह मजाक मत बनाओ। सीएम केजरीवाल की इस हरकत पर हिन्दू संगठन भी खासे नाराज हैं। विपक्षी दलों को भी उनके खिलाफ एक अच्छा मुद्दा मिल गया है।