राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी: सुबोध कांत सहाय

0
265

न्यूज चक्र @ कोटा

पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता  सुबोध कांत सहाय ने दावा किया कि राजस्थान में अगली सरकार कांग्रेस पार्टी की ही बनेगी। कांग्रेस यहां सामूहिक नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी। सहाय रविवार को यहां एक दिवसीय यात्रा पर आए थे।
पूर्व केन्द्रीय मंत्री सहाय ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए एक सवाल के जवाब में कहा कि कांग्रेस पार्टी में नेतृत्व पहले से घोषित नहीं होता है। यह आप कहीं भी देख लीजिए। इसीलिए यहां अशोक गहलोत, सचिन पायलेट, सीपी जोशी सहित और भी कई नेतृत्व हैं। ये ही नई सरकार बनाने के मूल सूत्र धार होंगे। सहाय ने कहा कि 2019 के चुनाव में सारा विपक्ष एक होगा। अगर मायावती, मुलायम और कांग्रेस एक हो जाते तो उप्र में जहां 72 सीटें जीते हैं, वहां जो स्थिति होती उसका हिसाब उसका हिसाब लगा लीजिए। कांग्रेस पार्टी 130 साल पुरानी पार्टी है। इसमें फेज आउट होने का एक अपना नेचुरल प्रोसेस है। राहुल गांधी उसी नेचुरल प्रोसेस को फॉलो कर रहे हैं। यही कारण है कि उनके अगल-बगल सारे पार्टी के नेता साथ खड़े हुए हैं। कांग्रेस पार्टी में परिवारवाद के सवाल पर उन्होंने कहा कि देश में ही नहीं पूरी दुनिया में परिवारवाद ही चल रहा है। जो सक्षम होता है, वो ही टिकता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास बहुत से सक्षम नेता हैं। यह कोई परम्परा नहीं है कि सिर्फ राहुल गांधी ही परिवार से अध्यक्ष बने हैं। कई अन्य लोग भी अध्यक्ष बन चुके हैैं।
चुनाव आयोग कर रहा है पक्षपात
क्या गुजरात में चुनाव आयोग पक्षपात कर रहा है, इस सवाल के जबाव में पूर्व मंत्री सुबोध कांत सहाय ने कहा कि इलेक्शन डेट घोषित करने से लेकर इलेक्शन के पूरे कंडक्ट तक में चुनाव आयोग की गरिमापूर्ण भूमिका पर सवालिया निशान लगा है। प्रधानमंत्री ने भी कोड ऑफ कंडक्ट का वॉयलेशन किया। वो वोट देकर भी वहां रोड शो करते रहे। वे जानते थे कि दुनिया भर के लोग उनको कवर करेंगे। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी का 12 दिसम्बर को रोड शो था उसे कैंसिल करा दिया और अपना सी प्लेन लेकर रोड शो करने लगे। क्या उनके लिए कोई कानूनी थ्रेट नहीं था?