अहमद पटेल के अस्पताल में काम करता था आईएसआईएस का गिरफ्तार आतंकी: सीएम रुपाणी

0
696

न्यूज चक्र @ अहमदाबाद/ सेन्ट्रल डेस्क
गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद अहमद पटेल पर अब तक का सबसे गम्भीर आरोप लगाकर सनसनी फैला दी है। उनके अनुसार गुजरात एटीएस ने भरूच से जिन दो आतंकियों को गिरफ्तार किया है, उनमें से एक आतंकी अहमद पटेल के संचालन में चल रहे अंकलेश्वर के सरदार पटेल अस्पताल में काम करता था। गिरफ्तारी से दो दिन पहले ही उसने अस्पताल से इस्तीफा दिया था।
रुपाणी ने शुक्रवार रात बुलाई पत्रकार वार्ता में कहा कि पूछताछ में पता चला है कि इन दोनों आतंकवादियों का मकसद हिन्दू धर्मगुरुओं पर हमला करना और यहूदी स्थलों को भी निशाना बनाना था। उनका यह आरोप भी है कि अहमद पटेल इस अस्पताल का संचालन करते हैं। वे इसके ट्रस्टी भी रहे हैं। 2016 में उन्होंने इस अस्पताल के उद्घाटन के मौके पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को आमंत्रित किया था। इस भव्य कार्यक्रम में पटेल खुद भी मंच पर होस्ट के रूप में मौजूद रहे थे। रुपाणी के अनुसार इससे ही स्पष्ट है कि अहमद पटेल का इस अस्पताल से आज भी सम्बन्ध है। इस कारण उन्होंने पटेल से राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा मांगते हुए कहा कि पटेल और कांग्रेस इस गंभीर मुद्दे पर अपनी सफाई दे।
इसके जवाब में कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पत्रकार वार्ता में सफाई दी कि अहमद पटेल ने 2014 के अंत में अस्पताल से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद उनका या उनके परिवार के किसी भी सदस्य का इससे कोई सम्बन्ध नहीं है।