बून्दी उत्सव -2017: इस बार अधिक आकर्षक बनाने के लिए तैयारियां, बैठक में हुई चर्चा

0
560

न्यूज चक्र @ बून्दी
बून्दी उत्सव-2017 के तहत आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों को अधिक भव्य बनाने के लिए सोमवार को एडीएम (सीलिंग) ममता तिवाड़ी की अध्यक्षता में सांस्कृतिक कार्यक्रम समिति की आयोजित हुई बैठक में अहम चर्चा हुई।
बैठक में एडीएम तिवाड़ी ने निर्देश दिए कि बून्दी उत्सव के दौरान आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों में बेहतरीन प्रस्तुतियां होना सुनिश्चित हो। कार्यक्रमों में अंग्रेजी एंकरिंग की व्यवस्था भी की जाए। शोभायात्रा में अच्छे स्तर के राजस्थानी कलाकारों की प्रस्तुतियों को शामिल किए जाने के निर्देश भी दिए गए।
इसी क्रम में सुखमहल में आयोजित होने वाले मान मनुहार कार्यक्रम के दौरान सुर संगम में वाद्य यंत्र बजाने वाले कलाकारों की प्रस्तुतियां करवाने की व्यवस्था के निर्देश भी दिए। इस कार्यक्रम में ब्लॉक स्तर से भी चुनिंदा कलाकारों को शामिल किए जाने की बात कही गई। बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी तेज कंवर, सहायक पर्यटन अधिकारी प्रेम शंकर, रसद विभाग की निरीक्षक अदिति, पुरुषोत्तम लाल पारीक आदि मौजूद थे।

बून्दी उत्सव के दौरान लगेगी अमृता हाट
अमृता हाट बाजार के आयोजन को लेकर जिला कलक्टर शिवांगी स्वर्णकार की अध्यक्षता में उनके कक्ष में अलग से बैठक हुई।
इसमें जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि अमृता हाट बाजार का आयोजन बून्दी उत्सव के साथ ही किया जाए। उन्होंने हाट बाजार के आयोजन को लेकर की जाने वाली तैयारियों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने निर्देश दिए कि हाट बाजार में अधिकाधिक सहभागिता के लिए प्रयास किए जाए।
बैठक में महिला अधिकारिता कार्यक्रम अधिकारी युगल किशोर मीणा ने अमृता हाट बाजार के आयोजन को लेकर की गई तैयारियां के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अमृता हाट बाजार के लिए 26 से 30 अक्टूबर की तिथि निर्धारित की गई थी, लेकिन अब यह हाट बाजार बूंदी उत्सव के साथ आयोजित किया जाएगा।

बून्दी उत्सव से पहले संवारें शहर के प्रमुख चौराहों की सूरत
-जिले में डेंगू से एक भी मौत नहीं होने का दावा
-साप्ताहिक समीक्षा बैठक सम्पन्न
बून्दी। पानी, बिजली एवं मौसमी बीमारियों सम्बन्धी साप्ताहिक समीक्षा बैठक सोमवार को जिला कलक्टर जिला कलक्टर शिवांगी स्वर्णकार की अध्यक्षता में उनके कक्ष में आयोजित हुई।
बैठक में जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि मौसमी बीमारियों पर नियंत्रण के इंतजाम किए जाएं। साथ ही मिलावट पर कड़ी नजर रखी जाए। हिण्डोली व अन्य प्रभावित क्षेत्रों में सिलिकोसिस की रोकथाम तथा उपचार के लिए शिविर लगाए जाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि जिला अस्पताल में सफाई व्यवस्था बेहतर हो तथा मरीजों के लिए माकूल सुविधाएं भी रहें। दीपावली के मद्देनजर खाद्य पदार्थों की जांच नियमित रूप से हो।
उन्होंने निर्देश दिए पेयजल आपूर्ति सुचारू रहे, इसकी सुनिश्चितता की जाए। आरओ प्लांट चालू रहें, और सभी जगह एटीएम से पानी वितरण हो। उन्होंने कहा कि बून्दी बाईपास निर्माण गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखा जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि अधिकारियों द्वारा गत दिनों किए गए निरीक्षण के दौरान मिली कमियों की शीघ्र पालना करवाई जाए।
निखारें पर्यटन स्थल
जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि बून्दी उत्सव पहले शहर के चौराहों को संवारा जाए। साथ ही प्रमुख पर्यटन स्थलों की भी सफाई कर उन्हें निखारा जाए। रास्तों को सुधारने के साथ ही पोस्टरों को भी साफ करवाएं। प्रमुख मार्गों के राजकीय भवनों की दीवारों को चित्रकारी से सजाया जाए। जिला कलक्टर ने नगर परिषद के अधिकारियों से नवल सागर की सफाई के बारे में जानकारी लेकर निर्देश दिए कि सभी पर्यटन स्थलों को साफ कराएं। नगर परिषद के सहायक अभियंता ने जिला कलक्टर को जानकारी दी कि नवल सागर की सफाई करवाई जा रही है। सीवरेज के कारण सड़क खुदाई के बारे में बताया कि शहर में नई लाइन खोदने पर रोक जारी रहेगी। रेस्टोरेशन कार्य तेजी से करवाया जा रहा है।
डेंगू से नहीं हुई एक भी मौत
बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुरेश जैन ने दावा किया कि जिले में डेंगू से किसी की मौत नहीं हुई है। जिलेभर में फोगिंग करवाई जा रही है। साथ ही डेंगू, स्वाइन फ्लू आदि की रोकथाम के इंतजाम किए जा रहे हैं। इसके अलावा बचाव के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है।