अरमान खान ने अमन झा बनकर की हिन्दू लड़की से शादी, अंत में जान से मारने की कोशिश

0
823

न्यूज चक्र @ सेन्ट्रल डेस्क/ग्वालियर
मुस्लिम युवक ने हिन्दू नाम से अपनी फेसबुक आईडी बना हिन्दू युवती से दोस्ती कर पहले तो उससे शादी की। इसके बाद उसने मुस्लिम लड़की से दूसरी शादी भी झूठ बोल कर की। इसके चलते उसके खिलाफ दोनों ही लड़कियों की ओर से रिपोर्ट दर्ज करा दी गई हैै। आरोपी फरार हैै, उसे पुलिस तलाश रही है।

उपनगर ग्वालियर में रहने वाली एक युवती ने पुलिस को शिकायत की थी कि एस साल पहले उसकी अमन झा नामक युवक से फेसबुक के माध्यम से दोस्ती हुई थी। युवती भी झा ही थी, इसलिए उसने अमन की बात अपने परिजन से कराई।अमन ने बताया कि उसके माता-पिता की मौत हो चुकी है और वह जयपुर में एक निजी कम्पनी में कम्प्यूटर ऑपरेटर है। उसकी बातों पर भरोसा कर युवती के परिजनों ने 4 मार्च 2017 को दोनों की शादी करवा दी। इसके लगभग एक महीने बाद ही अमन ने नाहिदा नामक लड़की से भी मुस्लिम रीति-रिवाज से शादी कर ली। तब जाकर हिन्दू लड़की को पता चला कि खुद को अमन झा बताने वाला उसका पति असलियत में अरमान खान है। ग्वालियर के ही तारागंज इलाके के निवासी इस अरमान खान के  माता-पिता भी जिन्दा है तथा उसके अन्य भाई-बहनों के साथ रहते हैं।

इस बात का खुलासा हो जाना के बाद अरमान व उसका परिवार पहली पत्नी (हिन्दू लड़की) से मारपीट करने लगा। ये उस पर अपने पति के मजहब को अपना लेने (मुस्लिम धर्म) का दबाव डालने लगे। तीन दिन पहले पुलिस ने इस युवती की शिकायत पर अरमान और उसके परिजनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था।
शुक्रवार की सुबह अरमान खान की दूसरी पत्नी नाहिदा के पिता मुन्ना खां भी जनकगंज पुलिस थाने पहुंचे। वहां  मुन्ना ने बताया कि वह तिघरा रोड पर रहते हैं। उन्होंने जब अपनी बेटी नाहिदा की शादी अरमान से की थी तो उन्हें अरमान या उसके परिजनों ने उसके पहले से शादीशुुदा होने की जानकारी नहीं दी थी। इस प्रकार उन्हें भी धोखा दिया गया है और इस मामले में वह भी कार्रवाई चाहते हैं।

फरार अरमान की तलाश में जुटी पुलिस
पुलिस अब इस बात की जानकारी भी जुटा रही है कि अरमान खान ने अमन झा के नाम से आधार कार्ड कहां से बनवाया। फर्जी तरीके से यह आधार कार्ड बनवाने  वाले के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। टीआई ग्वालियर थाना मदनमोहन मालवीय के अनुसार, अमन उर्फ अरमान की तलाश उसके नाते-रिश्तेदारों के यहां पर की जा रही है, लेकिन अभी वह हाथ नहीं आया है। जयपुर से भी उसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।

इस तरह खुला अरमान खान का राज
7 अप्रैल को हिन्दू युवती घर पर थी। जिसे वह अपना पति अमन झा समझती थी, वह अपने साथ एक महिला को लेकर आया। अमन ने बताया कि यह महिला उसकी पत्नी है और आज ही दोनों की शादी हुई है। यह सुनकर  हिन्दू युवती हैरान रह गई। इसी दौरान अमन का राज खुला कि उसका असली नाम अरमान खान है और उसने नाहिदा से दूसरी शादी की है। इस दूसरी शादी के बाद अरमान के माता-पिता कनीजा बेगम और भूरे खान भी वहां आ गए और सभी मिलकर हिन्दू युवती पर धर्म परिवर्तन का दबाव डालने लगे। मगर इसने धर्म परिवर्तन से इनकार कर दिया।

बंधक बना मारपीट की, फिर जान से मारने की कोशिश

धर्म परिवर्तन करने से मना करने पर इस युवती को अरमान और उसके परिजनों ने बंधक बना लिया और जमकर मारपीट करने लगे। इसी दौरान सितम्बर माह में अरमान की दूसरी पत्नी नाहिदा ने उसे घर से निकाल दिया। इस पर अरमान उसे ग्वालियर मे तारागंज इलाके में स्थित अपने घर तारागंज लेकर आ गया। यहां इस हिन्दू युवती को अरमान और उसके दो दोस्तों ने जान से मारने की कोशिश की, लेकिन वह किसी तरह बचकर भाग निकली। यहां से वह पहले अपनी बहन के घर और फिर सीधे ग्वालियर थाने में पहुंची।