राजस्थान के मंत्री का दावा: हर ग्राम पंचायत मुख्यालय को बना रहे ‘स्मार्ट विलेज’

0
148

न्यूज चक्र @ चूरू

राजस्थान के ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने दावा किया कि राज्य सरकार हर ग्राम पंचायत मुख्यालय को स्मार्ट विलेज के रूप में विकसित कर रही है। इसके तहत ग्रामीणों को सभी शहरी सुविधाएं उनके गांव में ही उपलब्ध कराई जा रही हैं

राठौड़ रविवार को निकटवर्ती ग्राम देपालसर में 1.50 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित गौरव पथ और 13 लाख रुपए की लागत से निर्मित खुर्रा निर्माण मय नाली निर्माण का उद्घाटन करने के बाद आयोजित समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार राज्य की प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर सीनियर सैकंडरी स्कूल, स्ट्रीट लाइट्स, पार्क, गौरव पथ, खुर्रा निर्माण, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, स्कूल और श्मशान गृह की चार दीवारी, कैटल शैड का निर्माण कर उन्हें ‘स्मार्ट विलेज’ के रूप में विकसित कर रही है।

ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा कि गत तीन वर्षों में देपालसर ग्राम पंचायत मुख्यालय पर 3 करोड़ 86 लाख 64 हजार रुपए के विभिन्न विकास कार्य हुए हैं।
इससे ग्रामीणों के जीवन स्तर में भी बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आगामी 5 वर्षों में राज्य के गरीब व पात्र परिवारों के लिए 17 लाख मकान तैयार कर आवंटित किए जाएंगे।

मंत्री ने अपील की कि पात्र व जरूरतमंद ग्रामीण व्यक्ति श्रमिक कार्ड बनाकर राज्य सरकार की कल्याणकारी योजना के तहत स्वास्थ्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में अधिकाधिक लाभ उठाएं। कृषक अपने खेतों में केटल शैड एवं निजी कुण्ड निर्माण के लिए अधिकाधिक आवेदन पत्र प्रस्तुत करें। गत दिनों गांव में आयोजित न्याय आपके द्वार राजस्व शिविर में मौके पर ही 125 पट्टे जारी कर ग्रामीणों को राहत प्रदान की गई।