कोटा: फैक्ट्री में अमोनिया गैस लीक, इलाके में मची भगदड़, हॉस्टल के कई छात्रों की हालत गम्भीर

0
379

न्यूज चक्र @ कोटा
इन्द्रप्रस्थ इंडस्ट्रियल एरिया में स्थित एक कबाड़ फैक्ट्री में शनिवार दोपहर अमोनिया गैस लीक हो जाने से इलाके में भारी अफरातफरी और भगदड़ मच गई। तेजी से हुए इस गैस रिसाव की चपेट में आ जाने से फैक्ट्री के ही एक हिस्से में स्थित हॉस्टल के छात्रों की तबीयत बिगड़ गई। इन्हें निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। गैस के प्रभाव से आसपास के पौधे तक बुरी तरह झुलस गए। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को हिरासत में लिया है।

इन्द्रप्रस्थ इंडस्ट्रियल एरिया के रोड नंबर 4 पर आकाश इंडस्ट्रीज के नाम से कबाड़े की फैक्ट्री है। यहां खरीदे गए पुराने सामानों को काटकर उनमें से कीमती धातुएं निकाली जाती हैं। शनिवार को भी फैक्ट्री में कबाड़ काटने का काम चल रहा था, तभी अमोनिया गैस से भरा एक सिलेंडर लीक होने लगा। इस पर फैक्ट्री में काम रहे मेकेनिक उस सिलेंडर को बाहर की ओर लेकर दौड़े और सामने के नाले में फेंक दिया। मगर इसका असर उलटा हुआ और गैस आसपास के इलाके में फैलती गई। यहां तक कि यह फैक्ट्री के ही एक हिस्से में स्थित स्वास्तिक हॉस्टल में जा पहुंची। इससे कमरों में रह रहे छात्रों को अचानक सांस लेने में भारी तकलीफ तथा आंखों और सीने में जलन होने लगी। इससे इनमें भगदड़ मच गई। मामले की जानकारी मिलते ही एएसपी अनंत कुमार पुलिस जवानों और प्रशासनिक अमले के साथ तुरंत मौके पर पहुंचे। इसी के साथ मौके पर पहुंचीं दमकलों ने सिलेंडर से रिसती गैस पर काबू पाया। इसके बाद हॉस्टल के छात्रों को पास ही के तलवंडी स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां उनका उपचार जारी है।

विभिन्न राज्यों के छात्रों की हालत गम्भीर

अस्पताल में बिहार निवासी गौरव सिंह, यूपी के मथुरा निवासी शुभम बघेल, शाहजहांपुर निवासी अमित कुमार, मुजफ्फर नगर निवासी पिन्टू राज, जौनपुर निवासी वरुण, औरंगाबाद निवासी आशुतोष, मुजफ्फरपुर निवासी उत्सव राज, यूपी के ही विपुल व हर्षित, हरियाणा निवासी रिषभ, दिल्ली निवासी रजनीश तथा राजस्थान के ही पाली निवासी सिद्धार्थ की हालत गम्भीर बनी हुई है। इनके अलावा बाकी छात्रों को प्राथमिक उपचार के बाद वापस हॉस्टल भेज दिया गया।