कोटा में अब हाईटेक अभय कमांड सेन्टर रखेगा अपराधियों पर निगाह

0
481
न्यूज चक्र @ कोटा
मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने शुक्रवार को कोटा में स्मार्ट पुलिसिंग व्यवस्था लागू करने के लिए उच्च तकनीकी से लैस अत्याधुनिक पुलिस कंट्रोल रूम ‘अभय कमाण्ड सेन्टर’ का शुभारम्भ किया। जयपुर के बाद कोटा में राज्य का यह दूसरा कमाण्ड सेन्टर शुरू किया गया है। इसे हेमू कालानी भवन में स्थापित किया गया है।
अभय कमांड सेन्टर के  उद्घाटन समारोह को सम्बोधित करते हुए सीएम वसुंधरा ने कहा कि राज्य पुलिस के आधुनिकीकरण और आमजन को सुरक्षित वातावरण देने के लिए प्रदेश में कई नवाचार किए गए हैं। उन्होंने कहा कि आधुनिक तकनीक के माध्यम से राजस्थान में स्मार्ट पुलिसिंग अपनाई जा रही है। पुलिस अभय कमांड सेंटर एक ऐसा प्रयोग है जो पुलिस विभाग की कार्य क्षमता तथा कार्य कुशलता बढ़ाएगा। यह अपराध नियंत्रण व जांच में महत्वपूर्ण साबित होगा।
राज्य सरकार के सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के सहयोग से संचालित इस कमांड सेन्टर के माध्यम से पुलिस हाई क्वालिटी वीडियो कैप्चरिंग, वीडियो सर्विलांस, कॉल रिकॉर्डिंग, वाहन ट्रेकिंग, भीड़ प्रबन्धन, अपराध स्थल की मॉनिटरिंग आदि कर सकेगी। इस सेन्टर में उपलब्ध वीडियो, कॉल रिकॉर्ड तथा अन्य डाटा के एनालेसिस से पुलिस को अपराधियों की पहचान, फोरेन्सिक इन्वेस्टिगेशन, यातायात नियंत्रण, अपराध नियंत्रण और महिलाओं के खिलाफ अपराधों की रोकथाम में मदद मिलेगी।
सीएम ने कहा कि मार्च में प्रदेश का पहला कमांड सेंटर जयपुर में शुरू करते समय ही मैंने घोषणा की थी कि राज्य के सभी सम्भागीय मुख्यालयों पर भी अभय कमांड सेन्टर स्थापित किए जाएंगे। कोटा इस कड़ी में पहला सम्भाग है। उन्होंने कहा कि जयपुर सहित सभी सम्भागीय कमांड सेंटरों को चरणबद्ध रूप से जिला मुख्यालयों में स्थापित पुलिस कंट्रोल रूम और कमांड सेन्टर से जोड़ा जाएगा। यह केन्द्र अपराध नियंत्रण के साथ-साथ यातायात प्रबन्धन और सामान्य प्रशासनिक व्यवस्थाओं को सुचारू रखने में भी सहायक होगा।
इस दौरान वसुंधरा ने जिला कलक्ट्रेट में डेटा सेन्टर का भी उद्घाटन किया। उन्होंने हेमू कालानी भवन से ही कोटा शहर पुलिस की 29 दुपहिया वाहन सवार 58 महिला पुलिसकर्मियों को हरी झंडी दिखाई। ‘अभय’ योजना के तहत ये महिला पुलिसकर्मी शहर के विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं के विरुद्ध अपराध नियंत्रण के लिए तुरंत मौके पर पहुंचकर राहत दिलाएंगी।
इस अवसर पर गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया, कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी, खान राज्यमंत्री सुरेन्द्र पाल सिंह, सांसद दुष्यंत सिंह व ओम बिड़ला, विधायक भवानी सिंह राजावत, चन्द्रकांता मेघवाल, विद्याशंकर नंदवाना, संदीप शर्मा, हीरालाल नागर, यूआईटी अध्यक्ष रामकुमार मेहता, अन्य जनप्रतिनिधि, प्रमुख शासन सचिव आईटी अखिल अरोरा, शासन सचिव सानिवि एवं जिला प्रभारी आलोक, कोटा रेंज के आईजी विशाल बंसल सहित अन्य पुलिस एवं प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।
छात्र-छात्राओं को भी अवलोकन करवाएं
मुख्यमंत्री वसुंधरा ने अभय कमांड सेन्टर से निगरानी तंत्र की गतिविधियों से स्कूली बच्चों को रूबरू कराने के निर्देश देते हुए कहा कि स्कूली बच्चों को इससे शिक्षा के साथ-साथ सुरक्षा का संदेश भी मिलेगा। उन्होंने जिला कलक्टर रोहित गुप्ता को अभय कमांड सेन्टर का उपयोग नगर निगम के कार्यों व गतिविधियों की निगरानी तथा गौशाला में लगाए गए सीसीटीवी कैमरों को भी इससे जोड़ने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने अभय कमांड सेन्टर से नगर निगम से सम्बन्धित कार्यों की निगरानी के लिए दैनिक रिपोर्ट के बारे में जानकारी दी।