वन भ्रमण पर निकले ठाकुर जी, लगे जयकारे

राठौर तेलीय युवा शक्ति जागृति मंच कोटा सम्भाग एवं समस्त तेली समाज कोटा महानगर की ओर से निकाली गई भगवान श्रीरामचन्द्र की शोभायात्रा, प्रतिभावान विद्यार्थियों एवं वरिष्ठजनों का सम्मान भी किया

0
154

न्यूज चक्र @ कोटा

सावन माह के समापन पर ठाकुर जी वन भ्रमण पर निकले। राठौर तेलीय युवा शक्ति जागृति मंच कोटा सम्भाग एवं समस्त तेली समाज कोटा महानगर की ओर से रविवार को धूमधाम से भगवान श्रीरामचन्द्र की शोभायात्रा निकाली गई। इसमें बड़ी संख्या में समाजबंधु शामिल हुए।

यह शोभायात्रा तेलियोंके मंदिर, श्रीपुरा से प्रारम्भ होकर लालबुर्ज, कैथूनीपोल, टिपटा, दशहरा मैदान, दादाबाड़ी छोटा चैराहा होते हुए राठौर तेली समाज छात्रावास पर पहुंच कर सम्पन्न हुई। यहां महाआरती के साथ शोभायात्रा का समापन किया गया। इसके बाद यहीं पर प्रतिभा एवं वरिष्ठजन सम्मान समारोह का आयोजन भी हुआ। इसमें 100 वृद्धजनों और करीबन 100 ही मेधावी छात्र-छात्राओं का सम्मान किया गया।

समारोह के मुख्य अतिथि सांसद ओम बिरला थे। अध्यक्षता जागृति मंच के संरक्षक महेश राठौर ने की। विशिष्ठ अतिथि पूर्व महापौर ईश्वरलाल साहू, पूर्व प्रधान ओम राठौर, गोवर्धन राठौर, प्रान्तीय अध्यक्ष शौकीन चन्द राठौर व बून्दी छात्रावास अध्यक्ष गणेश राठौर  थे। समारोह को सम्बोधित करते हुए सांसद ओम बिरला ने कहा कि राठौर समाज ने दुर्गादास और नरेन्द्र मोदी जैसे सपूत देश को दिए हैं।

उन्होंने कहा कि समाज से संस्कार मिलते हैं। ये संस्कार और विचार ही व्यक्ति को आगे बढ़ाने का काम करते हैं। राठौर तेली समाज मेहनतकश और व्यापार से जुड़ा हुआ समाज है। आज आजादी के 70 साल बाद समाज में फिर से नई चेतना महसूस की जा रही है। भारत छोड़ो आन्दोलन के 75 वर्ष पूर्ण होने पर नए भारत के निर्माण का संकल्प लेकर सभी को कार्य करना होगा। वर्ष 2022 तक हमारे सपनों का भारत बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हाथों को मजबूत करने की जरूरत है। प्रमोद राठौर ने कहा कि तेलियान पंचायत की ठाकुर जी को वन भ्रमण पर ले जाने की वर्षाें पुरानी परम्परा आज तक जारी है।

शोभायात्रा में सफेद कुर्ता पायजामा पहने और गले में भगवा दुपट्टे डाले युवकों के साथ चूनरी पहने महिलाएं भी शामिल थीं। इसमें सबसे आगे पताकाधारी हाथी चल रहा था। इसके पीछे 15 घोड़े, 15 रथ, 5 विमान, 2 डीजे, 2 बैण्ड, 21 ढोल थे। वहीं 5 विमानों पर ठाकुर जी विराजमान होकर वनभ्रमण पर निकले। शोभायात्रा में शामिल वाहनों पर व समाजबंधुओं के हाथों में भगवा पताकाएं लहरा रही थीं। घरों पर भी भगवा पताकाएं लगाई गईं थीं।  बैण्ड वाले ‘श्रीराम जी की सेना चली…’’, ‘‘राम जी की निकली सवारी…’’ सरीखे भजन गा-बजा रहे थे। साथ ही ‘जयश्रीराम’ के जयकारे भी गूंज रहे थे।  जगह-जगह स्वागत द्वार सजाए गए थे, अल्पाहार की व्यवस्था भी की गई थी। श्री राधे राठौर महिला मण्डल तथा राठौर सोशल ग्रुप भी सहयोगी के तौर पर मौजूद रहे।

इस अवसर पर आयोजन समिति अध्यक्ष राजेश राठौर सम्भागीय अध्यक्ष प्रमोद राठौर, महामंत्री श्साम बिहारी राठौर, उपाध्यक्ष सुरेन्द्र राठौर, कोषाध्यक्ष दीपेन्द्र गोलानियां, शिवप्रसाद मंगरीदा, अजय राठौर, महेन्द्र राठौर, हरीश राठौर, महावीर साहू, जितेन्द्र धारवाल, उमेश राठौर, अनिता राठौर, मधु साहू, कुसुमलता, सूरज राठौर आदि मौजूद थे।