विधायक किरोड़ी लाल ने रसद विभाग के अफसर को रिश्वत लेते धरा, हाथ जोड़ निर्दोष बताने लगा

0
2263
दौसा। रिश्वत लेने के बाद धरा गया रसद विभाग का ईओ विधायक किरोड़ीलाल मीणा के सामने हाथ जोड़कर खड़ा हुआ।

न्यूज़ चक्र @ दौसा/जयपुर

लालसोट विधायक किरोड़ीलाल मीणा के द्वारा गठित एसीबी विंग ने गुरुवार को रसद विभाग, दौसा के प्रवर्तन अधिकारी (ईओ) को रिश्वत के 47 हजार रुपए लेने के तुरंत बाद धर लिया। इस कार्रवाई में मीणा खुद भी शामिल रहे।

एक राशन डीलर संजय मीना ने विधायक मीणा को ईओ कन्हैयालाल रैगर के द्वारा उससे रिश्वत मांगे जाने की जानकारी दी थी। उसने यह भी बताया था कि 19 हजार रुपए तो ईओ उससे एक दिन पूर्व बुधवार को ही महुआ में ले चुका है। आज 47 हजार रुपए और देने हैं। इसके बाद विधायक मीणा ने अपनी व्यूह रचना तैयार की। इसके तहत ईओ रैगर ने जैसे ही संजय से यह राशि लेकर कार में रखी और रवाना होने लगा कि विधायक ने अपने समर्थकों के साथ पहुंच कर उसे पकड़ कर घेर लिया। अचानक शिकंजे में आया ईओ बार-बार खुद को निर्दोष बताता रहा। इसी बीच उसने जैसे-तैसे वहां से  खिसकने का प्रयास भी किया, लेकिन भीड़ के कारण उसके लिए यह सम्भव नहीं हो सका। वहीं विधायक ने तुरंत कलेक्टर नरेश शर्मा को फोन पर यह जानकारी दे दी। इस पर एडीएम केसी शर्मा मौके पर पहुंचे। एडीएम ने रसद विभाग के एक लिपिक को बुलाकर कार से पूरी राशि  बरामद कर ली। मीडिया के सामने आरोपों से घिरा ईओ बार-बार खुद को निर्दोष बताते हुए विधायक के हाथ जोड़ता रहा।

परिवार का ख्याल कर नहीं की एसीबी में शिकायत

विधायक मीणा ने कहा कि उनकी भ्रष्टाचार के खिलाफ यह मुहिम जारी रहेगी। साथ ही यह भी कहा कि आरोपी ईओ रैगर के परिवार का ख्याल कर उन्होंने इस मामले की शिकायत एसीबी में नहीं की थी।