किसानों के ऋण का बोझ कम करने के लिए सरकार तत्पर

राजस्थान के सहकारिता एवं पशुपालन मंत्री ने 'ग्राम कोटा' में किया ऐलान

0
235
सहकारिता एवं गोपालन मंत्री अजय सिंह किलक
कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी
प्रमुख शासन सचिव कृषि नील कमल दरबारी

न्यूज चक्र @ कोटा    

सहकारिता एवं गोपालन मंत्री अजय सिंह किलक ने कहा कि प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के किसानों की आमदनी दोगुनी करने के मिशन में सहकारिता विभाग किसानों के आर्थिक सम्बलन के लिए कंधे से कंधा मिलाकर उनके साथ खडा़ है। किसानों पर आर्थिक बोझ ना पडे, इसके लिए ऋणों की ब्याज दरें घटाई गई हैं।

मंत्री किलक  ‘ग्राम कोटा’ के दूसरे दिन गुरुवार को ‘कोटा में कृषि सम्पन्नताः उभरते अवसर’ सेमिनार को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कृषक हित में सहकारिता विभाग द्वारा उठाए गए कदमों का जिक्र करते हुए बताया कि इस साल किसानों को बिना ब्याज के 15 हजार करोड़ रुपए का ऋण बिना भूमि व सम्पत्ति कागजात के रहन रखे, देने का बड़ा कदम भी उठाया है। ब्याज दरें कम करने, अदायगी के बाद पुनः आसान ऋण सुविधा के साथ ही बीमा कवच देकर किसानों के सम्बलन व कल्याण के लिए सरकार निरन्तर प्रयत्नशील है।
कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने कहा कि कोटा के कृषि सामर्थ्य और सम्पन्नता को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने यहां किसान हित में  ‘ग्राम’ जैसा वृहद आयोजन किया गया है। इसके अलावा भी कृषि में नवाचार और उन्नयन के प्रयास निरंतर किए जाते रहेंगे। परम्परागत कृषि के साथ औषद्यीय खेती एग्रो फोरेस्ट्री, फिशरी, पोल्ट्री आदि सभी क्षेत्रों में कोटा सम्भाग को देश में कृषि का सिरमौर बनाना चाहते हैं।
प्रमुख शासन सचिव कृषि नील कमल दरबारी ने कोटा सम्भाग की कृषि सम्पन्नता व इससे यहां उपलब्ध अवसरों की ओर ध्यान आकृष्ट करते हुए कृषि विभाग द्वारा उठाए जा रहे कदमों की जानकारी दी।
सेमिनार में स्पेन दूतावास की कृषि एवं सम्बद्ध विषयों की काउंसलर टेरेसा बेरस ने स्पेन में कृषि के परिदृष्य पर प्रकाश डालते हुए बताया कि वहां पर्यावरण संरक्षण को सर्वाेपरी रखते हुए कृषि विकास एवं तकनीकों पर निरंतर कार्य हो रहा है। हिमालया के वरिष्ठ शोध वैज्ञानिक डॉ. आर.कन्नन ने अश्वगंधा व सफेद मूसली की खेती के विषय में विस्तार से जानकारी दी। काजरी जोधपुर के वरिष्ठ प्रोफेसर व दाल परियोजना के समन्वयक डॉ.डी.कुमार ने दालों को भविष्य की फसल बताया। साथ ही कहा कि ग्लोबल वार्मिंग के दौर में दाल अन्य फसलों के मुकाबले आसानी से पैदा की जा सकती है। बिग बास्केट के वरिष्ठ अधिकारी विनोद ने उद्यानिकी फसलों को खेतों से थाली तक पहुंचाने की प्रक्रिया को समझाया। एशियन डवलपमेंट बैंक के वरिष्ठ प्रोजेक्ट ऑफिसर राजेेश यादव ने पानी के संरक्षण और किसानों के लिए विपणन मंच के संबंध में प्रस्तुतिकरण दिया।