बौखलाहट: आतंककारियों ने निहत्थे लेफ्टिनेन्ट फैयाज का अपहरण कर गोलियों से भूना

0
583

न्यूज चक्र @ जम्मू-कश्मीर / सेन्ट्रल डेस्क

युवा लेफ्टिनेंट उमर फैयाज को दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में एक शादी समारोह से आतंकियों ने अगवा कर गोलियों से भून दिया। युवा लेफ्टिनेंट फैयाज युवाओं के आदर्श थे। वह जम्मू के अखनूर में सेना की राजपूताना राइफल में तैनात थे।

पांच महीने पहले ही 10 दिसंबर 2016 को फैयाज ने एनडीए से सेना में कमीशन प्राप्त किया था। वह 129वें बैच के कैडेट थे। फैयाज ने अपने रिश्तेदार की शादी के लिए छुट्टी ली थी। उन्हें 25 मई को अखनूर क्षेत्र में मौजूद अपने यूनिट में वापस जाना था, लेकिन यह शादी उनकी जिन्दगी की आखिरी शादी भी बन गई। आतंकियों ने रविवार रात दस बजे करीब फैयाज को शादी समारोह से अगवा कर उनकी हत्या कर दी। फयाज का गोलियों से छलनी शव दक्षिणी कश्मीर के हरमन में सोमवार सुबह साढ़े छह बजे करीब मिला था।

आतंकियों की धमकियों को किया था दरकिनार

कुलगाम जिला आतंकियों के गढ़ के रूप में माना जाता है। आए दिन आतंकी युवाओं को सेना और पुलिस की नौकरी नहीं करने की धमकी देते हैं। आतंकियों की धमकियों का दरकिनार कर फैयाज ने एनडीए पास कर सेना में कमीशन प्राप्त की।

फैयाज की खेलों में भी काफी रुचि थी। वे एनडीए की हॉकी टीम में भी रह चुके हैं। उसके पिता पेशे से किसान हैं और वे घाटी में सेब की खेती करते हैं। उनकी मौत से पूरे इलाके में शोक की लहर है।