11.38 लाख परीक्षार्थियों का नीट-यूजी दंगल रविवार को, बेटियां आगे

महा मुकाबला: इस वर्ष 41 फीसदी परीक्षार्थी अधिक, राज्य के 5 शहरों में 88 हजार परीक्षार्थी देंगे परीक्षा, बुर्का पहनने वाली 3 सौ कश्मीरी गर्ल्स को सेन्टर्स पर एक घंटा पूर्व जांच के बाद मिलेगा प्रवेश

0
772

अरविंद@कोटा

मेडिकल की सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षा नीट-यूजी, 2017 में 7 मई (रविवार) को 11.38 लाख से अधिक परीक्षार्थियों के बीच कड़ी दिमागी टक्कर होगी। यह आॅफलाइन परीक्षा देश के 103 शहरों के 1हजार 976 सेन्टर्स पर होगी। राज्य के 5 शहरों कोटा, जयपुर, उदयपुर, अजमेर व जोधपुर में 57 परीक्षा सेन्टर्स पर 88 हजार परीक्षर्थी पेपर देंगे। इनमें जयपुर के 24 सेन्टर्स पर 52 हजार 730, अजमेर में 16 हजार, कोेटा के 14   सेन्टर्स पर 8 हजार 160, उदयपुर के 14 सेन्टर्स पर 7 हजार 100 तथा जोधपुर के 9  सेन्टर्स पर 4 हजार 564 परीक्षार्थी पेपर देंगे। सीबीएसई ने 8 हजार गर्ल्स को वरीयता से कोटा में सेन्टर आवंटित किए हैं।फिर भी परीक्षार्थियों की संख्या ज्यादा होने से अन्य शहरों में भी उनके सेेन्टर आए हैं। ऐसे परीक्षार्थी शनिवार सुबह ट्रेेन, बसों, टैक्सियों आदि वाहनों से उन शहरों के लिए रवाना हो गए।
31 मार्च को सुप्रीम कोर्ट द्वारा नीट-यूजी के लिए इस वर्ष अधिकतम उम्र सीमा में छूट देने से रिपीटर्स की संख्या काफी बढ़ गई। सामान्य वर्ग के 25 वर्ष तथा एससी, एसटी व ओबीसी वर्ग के 30 वर्ष तक के रिपीटर्स इस वर्ष नीट-2017 में बैठेंगे। एमसीआई के अनुसार, इस वर्ष देश के 459 मेडिकल काॅलेजों में एमबीबीएस की 62 हजार​ 685 सीटों तथा 303 डेंटल काॅलेजों की 25 हजार बीडीएस सीटों पर दाखिले नीट-यूजी की रैंक से दिए जाएंगे।
बुर्का पहने कश्मीरी गर्ल्स को 1 घंटा पहले प्रवेश
सीबीएसई के सिटी काॅर्डिनेटर इंजीनियर प्रदीपसिंह गौड़ ने बताया कि कड़ी सुरक्षा के तहत सभी परीक्षा सेन्टर्स पर मेटल डिटेक्टर से दो  स्लाॅट में परीक्षार्थियों को प्रवेश दिया जाएगा। कोड-ए के परीक्षार्थी सुबह 7.30 से 8 बजे तक जांच के बाद प्रवेश करेंगे। कोड-बी के परीक्षार्थी सुबह 8 से 9.30 बजे तक प्रवेश लेंगे। कोटा में कोचिंग ले रही बुर्का पहनने वाली कश्मीरी स्टूडेन्ट्स की संख्या 300 से अधिक हैै। इसलिए उनकी सुविधा के लिए एक घंटा पूर्व उनकी जांच कर सेन्टर में प्रवेश दिया जाएगा।  सुबह 9.30 बजे के पश्चात् सभी परीक्षा सेन्टर्स पर प्रवेश बंद हो जाएंगे। वेशभूषा व उपकरणों संबंधी दिशा-निर्देश विद्यार्थियों को पहले ही दिए जा चुुुुके हैं। परीक्षा केन्द्रों पर माॅनिटरिंग के लिए सीबीएसई की फ्लाइंग स्क्वाॅयड टीमें तैनात रहेंगी।
मेडिकल में बेटियां आगे
राज्य में 9 गवर्नमेंट मेडिकल काॅलेजों में एमबीबीएस की 1हजार 600 सीटों तथा प्राइवेट, सोसायटी या ट्रस्ट द्वारा संचालित 8 अन्य मेडिकल काॅलेजों की 1हजार 200 सीटों सहित कुल 2 हजार 800 सीटों पर नीट-यूजी की मेरिट से दाखिले दिए जाएंगे। इस वर्ष कुल 11.38 लाख परीक्षार्थियों में सर्वाघिक 6.41 लाख बेटियां हैं। लड़कों की संख्या 4.97 लाख है। इस वर्ष 1.45 लाख ज्यादा बेटियां पेपर देंगी। उसी अनुपात में क्वालिफाई करने में भी वे लड़कों से आगे रहेंगी। गत वर्ष नीट-2016 में कुल 8 लाख 2 हजार 594 परीक्षार्थियों में से 3.37 लाख लड़के वहीं 3.93 लाख लड़कियां शामिल रहीं थीं। इनमें से 2.26 लाख लड़कियां  क्वालिफाई हुईं थी, जबकि लड़कों की संख्या 1.83 लाख रही थी। इस वर्ष भी 1.45 लाख लड़कियां अधिक होने से डाॅक्टर बनने की होड़ में वे लड़कों को कड़ी टक्कर देंगी। नीट-यूजी का रिजल्ट 8 जून को घोषित होगा।

10 लैंग्वेज में होगा पेपर
नीट-यूजी,2017 में 7 मई को सुबह 10 से 1 बजे तक होने वाला आॅफलाइन पेपर 720 अंकों का होगा। पेपर 10 भाषाओं हिन्दी, इंग्लिश, गुजराती, मराठी, बंगाली, उड़िया, तेलुगु, तमिल, कन्नड़ व असमी में होगा। हिन्दी व इंग्लिश के पेपर देश के सभी परीक्षा केन्द्रों पर उपलब्ध रहेंगे। जबकि अन्य भाषाओं के पेेेपर सम्बंधित राज्यों में दिए जाएंगे। परीक्षार्थियों को प्रवेश पत्र, आधार कार्ड व स्वयं का पासपोर्ट साइज का फोटो साथ ले जाना होगा। एक पोस्टकार्ड साइज का फोटो अपने साथ निर्धारित फाॅर्मेट पर चस्पा करके ले जाना होगा। बाॅल पाइंट पेन परीक्षा केंद्र पर ही दिया जाएगा।

  • नीट-यूजी, 2017 का बैरोमीटर:
    459 मेडिकल काॅलेज
    303 डेंटल काॅलेज
    62 हजार 685 एमबीबीएस की सीटें
    25 हजार 900 बीडीएस की सीटें
    11 लाख 38 हजार 888 कुल पंजीकृत परीक्षार्थी
    3.33 लाख (41.42 प्रतिशत) परीक्षार्थी बढे़