जेईई मेन- उदयपुर के कल्पित वीरवाल ने 100 प्रतिशत अंक हासिल कर रचा इतिहास

इंजीनियरिंग का सबसे बड़ा इम्तिहान : कटऑफ 19 अंक गिरने से सलेक्शन बढे़, 2.20 लाख विद्यार्थी देंगे जेईई-एडवांस परीक्षाऑल इंडिया टॉपर कल्पित वीरवाल ने 100 प्रतिशत अंक अर्जित कर जेईई-मैन में रचा नया इतिहास, कोटा के कोचिंग विद्यार्थियों ने शीर्ष रैंक पर लहराया परचम

0
645

अरविंद @ कोटा

इंजीनियरिंग की सबसे बडी़ प्रवेश परीक्षा जेईई मेन-2017 में रेजोनेंस के उदयपुर सेंटर के क्लास रूम छात्र कल्पित वीरवाल 100 प्रतिशत मार्क्स अर्जित कर ऑल इंडिया टॉपर बने। 5 वीं जेईई-मेन के इतिहास में पहली बार किसी छात्र ने 360 में से 360 अंक हासिल करने का कीर्तिमान बनाया है। इतना ही नहीं, उन्होंने  एससी कैटेगरी से होने बावजूद सामान्य वर्ग में भी बाजी मारी। इसी संस्थान के विश्वजीत अग्रवाल को एआईआर-5 रैंक मिली। इस वर्ष देश के 1हजार 781 सेंटर्स पर 10.20 लाख परीक्षार्थियों ने पेपर दिया, जबकि गत वर्ष 11.94 लाख विद्यार्थियों ने परीक्षा दी थी। इनमें से 2.20 लाख सफल परीक्षार्थी 21 मई को जेईई-एडवांस के लिए क्वालिफाई हुए।
सीबीएसई ने जेईई-मेन वेबसाइट पर ऑल इंडिया रैंक तथा केटेगरी रैंक जारी की। इस वर्ष कक्षा-12 वीं के अंक रैंकिंंग में नहीं जोड़े गए, जिससे कटऑफ नीचे गिरी। सामान्य वर्ग में 360 में से 81 अंक लाने वाले विद्यार्थी भी जेईई एडवांस के लिए क्वालिफाई होंगे। गत वर्ष कटऑफ 100 अंक होने से कई छात्र एडवांस से वंचित रह गए थे। सामान्य वर्ग में कटऑफ 81, ओबीसी में 49, एससी में मात्र 32 तथा एसटी में 27 रही। दिव्यांग कैटेगरी में कटऑफ 1 अंक रही।
जेईई-मेन की रैंकिंग से इस बार देश की 32 एनआईटी, 20 ट्रिपल आईटी, 18 केंद्र वित्त पोषित संस्थानों सहित 92 नेशनल तकनीकी संस्थानों में बीटेक तथा बीआर्क सहित डिग्री व ड्यूल डिग्री प्रोग्राम में एडमिशन मिलेंगे। अन्य राज्यों के अलग इस वर्ष गुजरात, मध्य प्रदेश, हरियाणा, उत्तराखंड, उड़ीसा तथा नागालैंड में भी स्टेट पीईटी की जगह जेईई-मेन की रैंक से इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले दिए जाएंगे। सीबीएसई ने पहली बार 9 देशों श्रीलंका, बांंग्लादेश,  नेपाल, सिंगापुर, बहरीन, दुबई, मस्कट, रियाद व शरजाह में भी जेईई-मेन के सेंटर्स खोले।
जेईई-एडवांस के लिए 28  ( शुक्रवार ) से  रजिस्ट्रेशन

दे श की 23 आईआईटी में लगभग 11 हजार सीटों के लिए 21 मई को जेईई-एडवांस परीक्षा होगी। जिसमे जेईई-मैन में क्वालिफाई विद्यार्थी 28 अप्रैल से 2 मई तक वेबसाइट www.jeeadv.ac.in पर ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। कुल 2.20 लाख परीक्षार्थियों में सामान्य वर्ग के 1 लाख 11 हजार 100  (50.5 प्रतिशत) विद्यार्थी, ओबीसी वर्ग के 59 हजार 400 ,एससी वर्ग के 33 हजार व एसटी वर्ग के 16 हजार 500 विद्यार्थी जेईई-एडवांस देंगे। गत वर्ष की तुलना में इस बार जेईई एडवांस में 73  हजार​ परीक्षार्थी  ज्यादा होंगे। 2016 में 1 लाख 47 हजार 678 नेे यह परीक्षा दी थी। इस वर्ष आईआईटी में एडमिशन​ के लिए 12वीं साइंस में सामान्य व ओबीसी वर्ग के लिए न्यूनतम 75 प्रतिशत तथा एससी,एसटी वर्ग के लिए 65 प्रतिशत मार्क्स अनिवार्य होंगे।
शीर्ष रैंक पर कोटा का दबदबा कायम

शिक्षा नगरी के कोचिंग विद्यार्थियों को जेईई-मेन में शीर्ष रैंक पर सफलता मिलने से एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट, रेजोनेंस, वायब्रेंट आईआईटी एकेडमी, बंसल क्लासेस, कॅरिअर पॉइंट, मोशन आईआईटी तथा राव आईआईटी में विद्यार्थियों ने शिक्षकों ने मिलकर धूूमधाम के साथ जश्न मनाया। एलन के 22 विद्यार्थियों ने मेरिट सूची की टॉप-100 रैंक पर बाजी मारी। जबकि 64 से अधिक विद्यार्थियों ने 360 में से 300 से अधिक मार्क्स अर्जित करने का कीतिॅमान रचा। वायब्रेंट एकेडमी से दो विद्यार्थियों​ ने ऑल इंडिया रैंक-26 व  72 पर सफलता हासिल की। सीबीएसई का सर्वर ओवरलोड होने से सभी संस्थानों में रिजल्ट विश्लेषण देर रात तक जारी रहा। कोटा से चयनित कुल विद्यार्थियों की संख्या शुक्रवार तक पता चल सकेगी।

  • रेजोनेंस के एमडी आरके वर्मा तथा निदेशक आशीष शर्मा ने कल्पित को इस ऐतिहासिक सफलता पर  बधाई देते हुए कहा कि उसने राज्य का गौरव बढ़ाया है।