संगोष्ठी: थर्मल के स्टेटस को बचाने के लिए कोटा का संकल्प

0
735

न्यूज चक्र @ कोटा

कोटा थर्मल की 4 यूनिटों को बंद कर दिए जाने के बाद इसे पूरी तरह निजी कम्पनी को सौंप दिए जाने की आशंका के बीच रविवार को थर्मल कॉलोनी के इरेक्टर हॉस्टल में शहर के गणमान्य लोगों संगोष्ठी आयोजित की गईl संघर्ष समिति की ओर से आयोजित की इस संगोष्ठी में कोटा की शान थर्मल पावर प्रोजेक्ट  को बचाने के विभिन्न सामाजिक संगठनों व ट्रेड यूनियनों के पदाधिकारियों ने तन-मन-धन से सहयोग का आश्वासन दिया । साथ ही इस बात पर जोर दिया कि यदि हमने एकजुट होकर मुकाबला नहीं किया तो जिस प्रकार पहले भी शहर के कई उद्योग बंद हो चुके हैं, उसी प्रकार कोटा थर्मल को भी खो देंगे।

सभी वक्ताओं ने हर हाल में कोटा थर्मल को बचाने के लिए संघर्ष समिति का सहयोग करने का आश्वासन दिया l इसमें इंटक , एचएमएस, राजस्थान विद्युत उत्पादन कर्मचारी संघ, थर्मल ठेकेदार वर्कर्स यूनियन, एटक, वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलॉइज यूनियन,थर्मल ठेका मजदूर संघ,थर्मल ठेका मजदूर संघ(इंटक) , राजस्थान संयुक्त राज्य कर्मचारी महासंघ, बार एसोसिएशन , एकाउण्ट एसोसिएशन, रिटायर्ड राज्य कर्मचारी संघ, बैंक एसोसिएशन,एकीकृत एम्लॉइज महासंघ,राज्य कर्मचारी मिनिस्ट्रल सर्विस, विजयवर्गीय समाज,ब्राह्मण समाज, कर्मयोगी सेवा संस्थान,सहायक कर्मचारी महासंघ,मंत्रणा-एक वैचारिक मंच, बीएसएनएल कर्मचारी संघ, जलदाय कर्मचारी संघ , थर्मल कॉन्ट्रेक्टर वेलफेयर एसोसिएशन,आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ, निजी शिक्षण संस्थान संघ,शिक्षा सहकारी संघ व वैश्य महासभा के प्रतिनिधि शामिल हुए । मुकेश गालव, हंसा त्यागी , बाबू लाल धाप, राम लाल गोचर, हरिलाल, एस के भार्गव, चंद्रशेखर चौधरी, इरशाद खान, राजाराम जैन ,पीएन शर्मा ,नवीन शर्मा ,भंवर सिंह राठौर, आनंद नागर आदि ने विचार व्यक्त किए l