जेईई मेन्स: कोटा के 18 केन्द्रों पर 9800 परीक्षार्थी देंगे परीक्षा

0
472

न्यूज चक्र @ कोटा
इंजीनियरिंग की सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षा 5 वीं जेईई मेन्स-2017 में करीब 12 लाख परीक्षार्थी ऑनलाइन व ऑफलाइन पेपर देंगे। 2 अप्रैल (रविवार) को होने वाली ऑफलाइन परीक्षा में कोटा शहर के 18 परीक्षा केन्द्रों पर 9800 परीक्षार्थी सुबह 9:30 बजे से 12:30 बजे तक पेपर-1 देंगे। 8 व 9 अप्रैल को ऑनलाइन परीक्षा भी कोटा में दो परियों में होगी।
सीबीएसई के कॉर्डिनेटर प्रदीप सिंह गौड़ ने बताया कि शहर के सभी प्रमुख सीबीएसई स्कूलों में जेईई मेन के परीक्षा केन्द्र निर्धारित किए गए हैं। बीस हजार से अधिक परीक्षार्थियों ने कोटा सेन्टर के लिए आवेदन किया था। सीबीएसई ने लड़कियों को स्थानीय सेन्टर देने में वरीयता दी है। इनमें डीएवी पब्लिक स्कूल, इमानुअल स्कूल, मोदी पब्लिक स्कूल, लारेंस एंड मेयो स्कूल, सोफिया स्कूल, सेंट पॉल स्कूल, सेंट जोन्स स्कूल, सिंघानिया स्कूल, एसआर पब्लिक स्कूल, बख्शी पब्लिक स्कूल, आर्मी स्कूल, मित्तल स्कूल, गुरूनानक स्कूल सहित शहर के अन्य सभी परीक्षा केन्द्रों पर सुरक्षा के माकूल इंतजाम किए गए हैं। राज्य के शेष परीक्षार्थी जयपुर, जोधपुर, उदयपुर, अजमेर व बीकानेर शहर के परीक्षा केन्द्रों पर पेपर देंगे। कोटा से ऐसे परीक्षार्थी जिनका सेन्टर अन्य शहरों में है, उनमें से अधिकतर तो परीक्षा से एक दिन पहले 1 अप्रैल को रवाना होंगे। मगर काफी संख्या में परीक्षार्थी अभी से ही परीक्षा केन्द्रों वाले शहरों में पहुंचना शुरू हो गए हैं।
परीक्षा समय से एक घंटा पहले पहुंचे
गौड़ ने बताया कि सभी परीक्षा केन्द्रों पर जांच अधिकारी परीक्षार्थियों की मेटल डिटेक्टर से सघन जांच कर ही प्रवेा देंगे। ऐसे में वहां लम्बी लाइनें लगी होंगी। इसलिए परीक्षार्थियों को चाहिए कि वे असुविधा से बचने के लिए परीक्षा शुरू होने के समय से करीब एक घंटा पहले पहुंच जाएं।
ये रखें विशेष ध्यान
– परीक्षार्थी अपने साथ प्रवेश पत्र व आधार कार्ड की मूल प्रति साथ ले जाएं। जिनके पास आधार कार्ड नहीं है, वे अन्य मूल परिचय पत्र साथ रखें।
– गर्मी में ढीले कपड़े या आधी बाहों के शर्ट पहनें, ताकि जांच कराने में सुविधा रहे।
– पैरों में जूते व मौज पहनने की बजाय चप्पल या सेंडल पहनें।
– लड़कियां ईयर रिंग, अंगूठी, कड़े, चेन ,ताबीज आदि गहने न पहनें।
– मोबाइल, घड़ी व अन्य मेटलिक चीजों को साथ न रखें।
– सभी परीक्षार्थियों को पेन परीक्षा केंद्रों पर दिए जाएंगे।
– पेयजल प्रत्येक सेंटर में परीक्षार्थियों को टेबल पर उपलब्ध कराया जाएगा।
कोटा को पहले माना था संवेदनशील
सीबीएसई ने कोटा को पहले संवेदनाील मानते हुए यहां परीक्षा सेन्टर आवंटित नहीं किया था। लेकिन बाद में सांसद ओम बिरला के उच्च स्तरीय प्रयासों से यह सम्भव हो सका। प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर सीबीएसई की 8 सदस्यीय ऑब्जर्वर टीम निगरानी करेगी। सीबीएसई के निर्देाों के अनुसार, प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर अधिकतम 3 कांस्टेबल व 1 उपनिरीक्षक तैनात रहेंगे।
9 देशों  में होगी ऑनलाइन परीक्षा
सीबीएसई ने 9 अप्रैल को होने वाली ऑनलाइन जेईई-मेन परीक्षा के लिए श्रीलंका, बांग्लादेश, नेपाल, सिंगापुर, बहरीन, दुबई, रियाद, मस्कट व शारजाह सहित 9 देशों में भी परीक्षा केन्द्र घोषित किए हैं। इन देशों में रहने वाले अप्रवासी भारतीयों के बच्चे इन पर जेईई मेन पेपर देंगे।