युवाओं को लोन देने के साथ बिजनेस में सफलता के गुर भी सिखाए

0
316

न्यूज चक्र @ कोटा
सेन्ट्रल बैंक ऑफ इण्डिया द्वारा  संचालित ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान में जिला उद्योग केन्द्र व खादी ग्रामोद्योग के सहयोग से संचालित दस दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम बुधवार को सम्पन्न हो गया। समापन समारोह में सहायक निदेशक खादी ग्रामोद्योग आरवी सिंह मुख्य अतिथि थे। वहीं विशिष्ट अतिथि डीडीएम नाबार्ड राजीव दायमा, अग्रणी जिला प्रबंधक केएस कुम्पावत व आरसेटी निदेशक पीएन मूलचन्दानी थे। इन्होंने प्रशिक्षार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित किए।
समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि सिंह ने कहा कि प्रक्षार्थियों को जिस प्रोजेक्ट के लिए ऋण प्रदान किया गया है, उसे शीघ्र प्रारम्भ कर अन्य व्यक्तियों को भी रोजगार उपलब्ध करवाएं। विशिष्ट अतिथि दायमा ने बताया कि स्वयं सहायता समह भी बैंक से ऋण प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना में कमसे कम 50 हजार व अधिकतम 10 लाख रुपए तक का ऋण प्राप्त कर सकते हैं। कुम्पावत ने कहा कि महिलाओं के लिए स्टार्ट अप इण्डिया के तहत 10 लाख से 1 करोड़ रुपए तक का ऋण दिया जाता है। मूलचन्दानी ने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान प्रािक्षार्थियों को कई रोजगार प्रेरक खेल खिलाए गए। इनके माध्यम से उन्हें बताया गया कि किस तरह रोजगाार को आगे बढाया जाए। बही खातों का लेखा जोखा ,बुक प्रबंधन, यूनिट विजिट, इनकम टैक्स, मार्केटिंग ,प्राइज मैनेजिंग ,सफल उद्यमी के गुण, कम्युनिकेशन आदि के बारे में समझाया गया। अनुदेशक कल्पना प्रजापति ने कार्यक्रम का संचालन किया ।