जयपुर में बंद होंगी अवैध मीट की दुकानें व बूचड़खाने

0
794

न्यूज चक्र @ जयपुर

उत्तर प्रदेश में अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई के बाद अब राजस्थान की राजधानी जयपुर में भी अवैध मीट की दुकानों और बूचड़खानों को सरकार ने बंंद करने की तैयारी कर ली है ।

जयपुर नगर निगम बिना लाइसेंस चलने वाले बूचड़खानों को बंद कराएगा। ऐसी मीट की दुकानें जो बगैर लाइसेंस के चल रही हैं, उन पर भी कार्रवाई की जाएगी।
मेयर अशोक लाहोटी ने इसके लिए निर्देश जारी कर दिए हैं । इसके तहत अगले महीने अप्रैल  से शहर में इस सम्बंध में सर्वे शुरू हो जाएगा। जयपुर शहर में करीब 4 हजार मीट की दुकानें हैं । इनमें से करीब 950 दुकानों के लाइसेंस रिन्यू किए जा चुके हैं ,लेकिन बाकी दुकानों पर गाज गिरनी तय है।
1 अप्रैल से कार्रवाई, विरोध प्रदर्शन की तैयारी में मीट करोबारी
न्यू जयपुर मीट एसोसिएशन ने नगर निगम की ओर से अवैध मीट दुकानों और बूचड़खानों पर होने वाली कार्रवाई के विरोध की तैयारी कर ली है।  एसोसिएशन के अनुसार निगम में वर्ष 2016 के बाद कोई लाइसेंस रिन्यू  नहीं किया गया । ऐसे में पहले लाइसेंस लेने के लिए समय तो दिया जाना चाहिए।
बीफ होने के शक पर होटल हयात रब्बानी को किया जा चुका है सील
नगर निगम की इस कार्रवाई से पहले 19 मार्च  को राजधानी के एक होटल हयात रब्बानी में बीफ के नाम पर बवाल हुआ था।  यहां के कुछ कर्मचारी चिकन के अवशेष निगम के कचरा पत्र में डालने गए तो बीफ फेंकने के नाम पर उनका जमकर विरोध हुआ।  गौ रक्षक दल की महिला कार्यकर्ता कमल दीदी ने आरोप लगाया कि होटल कर्मचारी बीफ फेंक रहे हैं। इसके बाद वहां गौ रक्षकों की संख्या बढ़ती गई और जमकर हंगामा हुआ।  इस दौरान होटल के कर्मचारियों को पीटा भी गया। इसके बाद जयपुर नगर निगम की एक टीम ने मौके पर पहुंच होटल का सील कर दिया था।