सत्ता पाने के लिए कांग्रेस और भाजपा ने हाथ मिलाया

0
358

न्यूज चक्र @ मुम्बई

महाराष्ट्र में  जिला परिषदों की सत्ता हासिल करने के लिए भाजपा सहित सभी राजनीतिक दलों ने अपने सिद्धांतों से समझौता कर लिया है। इसके चलते कांग्रेस ने यवतमाल जिला परिषद चुनाव में अपनी धुर विरोधी भाजपा से गठबंधन किया। वहीं, भाजपा ने जलगांव जिला परिषद में सत्ता के लिए कांग्रेस की मदद ली। कुछ जगहों पर जिला परिषद की सत्ता से भाजपा को दूर रखने के लिए शिवसेना को कांग्रेस से गठबंधन करना पड़ा।

इसी प्रकार  कुछ जगहों पर भाजपा ने राकांपा से हाथ मिलाया है। राज्य में 25 जिला परिषदों के लिए मंगलवार को अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद के चुनाव हुए। भाजपा ने 10, राकांपा ने 5, कांग्रेस ने 5 और शिवसेना ने 5 जिला परिषद में सत्ता हासिल की है। यवतमाल जिला परिषद में कांग्रेस की माधुरी आड़े अध्यक्ष और भाजपा के श्याम जयस्वाल उपाध्यक्ष पद पर विजयी हुए हैं।वहीं वर्धा जिला परिषद में अध्यक्ष पद पर भाजपा के नितिन मड़ावी और उपाध्यक्ष पद पर कांचन नांदुरकर चुने गए। चंद्रपुर में भाजपा के देवराव भोंगले अध्यक्ष और कृष्णलाल सहारे उपाध्यक्ष बने हैं।

अमरावती जिला परिषद में कांग्रेस के नितीन गोंडाणे अध्यक्ष और शिवसेना के दत्ता पुरुषोत्तम ढोमणे उपाध्यक्ष बने। गड़चिरोली में भाजपा-आविसं-राकांपा-निर्दलीय की सत्ता स्थापित हुई है। यहां भाजपा की योगिता भांडेकर अध्यक्ष और आविसं के अजय कंकडालवार उपाध्यक्ष पद पर चुने गए ।

धनंजय पर भारी पड़ीं पंकजा मुंडे

बीड़ जिला परिषद में राज्य की ग्रामीण विकास मंत्री पंकजा मुंडे के दाव के आगे विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष धनंजय मुंडे पिछड़ गए। यहां सर्वाधिक सीटें जीतने वाली राकांपा सत्ता हासिल नहीं कर सकी। पंकजा ने राकांपा नेता सुरेश धस के साथ हाथ मिलाया। इससे बीड़ जिला परिषद में भाजपा को सत्ता मिल गई। शिवसेना ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रावसाहब दानवे को उनके गृह जिले जालना में तगड़ा झटका दिया है।

औरंगाबाद में शिवसेना ने कांग्रेस को समर्थन देकर भाजपा को सत्ता से दूर रखा। जालना जिला परिषद में शिवसेना ने राकांपा व कांग्रेस को समर्थन दिया। इससे जिला परिषद की सत्ता शिवसेना व राकांपा के कब्जे में चली गई। अध्यक्ष शिवसेना का और उपाध्यक्ष राकांपा का बना है। नाशिक जिला परिषद में शिवसेना ने कांग्रेस व माकपा के सहयोग से सत्ता हासिल की। रायगढ़ में प्रदेश राकांपा अध्यक्ष सुनील तटकरे की बेटी आदिती तटकरे जिप अध्यक्ष चुनीं गईं हैं।

कहां-किस दल को मिली सत्ता

भाजपा : जलगांव, सांगली, कोल्हापुर, बुलढाणा, वर्धा, चंद्रपुर, गड़चिरोली, बीड़, लातूर और सोलापुर।

राकांपा : पुणे, सातारा, परभणी, उस्मानाबाद, रायगढ़।
कांग्रेस : नांदेड़, यवतमाल, अमरावती, अहमदनगर, सिंधुदुर्ग।
शिवसेना : औरंगाबाद, जालना, हिंगोली, नाशिक, रत्नागिरी।