बिरला ने की रबी की फसलों की समर्थन मूल्य पर खरीद शुरू करने की मांग

केन्द्रीय व राज्य के कृषि मंत्री से दूरभाष पर की वार्ता

0
1358

न्यूज चक्र @ कोटा
कोटा-बून्दी सांसद ओम बिरला ने सोमवार को केन्द्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह व राज्य के कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी से दूरभाष पर वार्ता कर राजस्थान में तिलहन फसलों के समर्थन मूल्य पर खरीदे जाने की व्यवस्था करवाने का आग्रह किया।
सांसद बिरला ने कहा कि प्रदेश की मंडियों मंे रबी जिंसों की आवक शुरू हो गई है। लेकिन मंंडी में न्यूनतम समर्थन मूल्य के खरीद केन्द्रों के शुरू नहीं होने के कारण किसानों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। गेहूं की फसल की खरीद के लिए समर्थन मूल्य के कांटे 1 अप्रेल से शुरू हांेगे, लेकिन केन्द्र सरकार की विपणन एजेंसी नैफेड द्बारा अभी तक प्रदेश में जिंसों की खरीद के लिए कोई तैयारी नहीं की गई है। बिरला ने केन्द्रीय मंत्री को बताया कि राजस्थान में देश के कुल उत्पादन का 18 प्रतिशत तिलहन पैदा होता है। मगर न्यूनतम समर्थन मूल्य के कांटें नहीं होने के कारण किसानों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। सांसद ने मंत्री को अवगत करवाया कि मंडी में सरसों का भाव लगभग 3300 रुपए क्विंटल है। जबकि सरसों का न्यनतम समर्थन मूल्य 3600 रुपए क्विंटल व 100 रुपए बोनस राशि मिलाकर 3700 रुपए क्विंटल का दाम किसानों को मिलता है। मगर न्यूनतम समर्थन मूल्य के कांटें शुरू नहीं होने के कारण किसानों को 400 रुपए क्विंटल का नुकसान हो रहा है।
सांसद ने केन्द्रीय व राज्य के मंत्रियों को अवगत करवाया कि अकेले हाड़ौती में एक लाख 96 हजार 600 हैक्टेयर में सरसों की बुवाई का अनुमान है। सांसद ने केन्द्रीय मंत्री से आग्रह किया है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य के खरीद केन्द्रों को शीघ्र शुरू करवाएं, ताकि किसानांे को आर्थिक नुकसान से बचाया जा सके।