ब्लाइंड मर्डर का खुलासा, आरोपियों ने मात्र बीस हजार रुपए के लिए की वारदात

0
536

न्यूज चक्र @ बून्दी
सदर थाना पुलिस ने एक ब्लाइंड मर्डर का तीसरे दिन ही खुलासा कर दिया। इसी के साथ वारदात के तीनों आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया। इन्होंने सनसनीखेज खुलासा करते हुए बताया है कि मात्र बीस हजार रुपए के लालच के लिए ही इतनी बड़ी घटना को अंजाम दे दिया।
उल्लेखनीय है कि 9 फरवरी को देवपुरा में नीमच आई हॉस्पिटल के सामने खाली पड़े प्लॉट में किसी युवक का शव पड़ा हुआ मिला था। उसकी पहचान सिलोर निवासी शंकर पुत्र धन्ना माली के रूप में हुई थी। शव की शिनाख्त मृतक के भाई देवलाल ने की थी। इस मामले का खुलासा करने के लिए एसपी सुनिल कुमार विश्नोई के निर्देशन में एएसपी राजेन्द्र वर्मा ने डीएसपी समदर सिंह व सदर थानाधिकारी अभिषेक पारिक के नेतृत्व में एक टीम गठित की। इस टीम ने मृतक के कार्यकलाप, पेशे, यार-दोस्तों की जानकारी जुटाना शुरू किया। साथ ही उसके
गायब मोबाइल नम्बर की कॉल डिटेल व उसके टॉवर लोकेशन की जानकारी भी जुटाई। इसमें पता चला कि किसी के द्वारा उस मोबाइल का उपयोग किया जा रहा था। इस पर पुलिस उस व्यक्ति तक पहुंची। उससे मिली जानकारी पर हत्या का सनसनीखेज खुलासा हुआ। एएसपी समदर सिंह ने बताया कि इसमें पता चला कि विष्णु नायक निवासी गुरुनानक कॉलोनी, लोकेश उर्फ मोग्या निवासी बाहरली बून्दी व कलाम निवासी नायक मोहल्ला, बाहरली बून्दी आपस में दोस्त हैं। 9 फरवरी के दिन इन्हेंं लंका गेट के पास शराब पी रहे शंकर लाल के पास करीब बीस हजार रुपए होने की जानकारी मिली। जब वह बुरी तरह नशे में धुत्त हो गया तो ये तीनों उसे लेकर नीमच आई हॉस्पिटल के सामने खाली पड़े प्लॉट पर लेकर पहुंचे। वहां इन्होंने उसकी गला रेत कर हत्या कर दी। इसके बाद उसके पास से रुपए व बाइक लेकर फरार हो गए। आरोपियों को शनिवार को अदालत में पेश किया जाएगा।