नैनवां में कर्मचारियों ने निकाली ध्यानाकर्षण रैली, मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया

0
327
बून्दी। नैनवां एसडीएम कार्यालय पर मांगों को लेकर प्रदर्शन करते कर्मचारी।
बून्दी। नैनवां में तहसीलदार को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देते कर्मचारी।

न्यूज चक्र @ बूंदी
अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी महासंघ (एकीकृत) उपशाखा नैनवां की ओर से गुरुवार को उपखंड मुख्यालय पर भाजपा के चुनाव के दौरान सुराज संकल्प-पत्र में की गई कर्मचारी कल्याण घोषणाएं सरकार को याद दिलाने के लिए ध्यान आकर्षण रैली निकाली। इस दौरान एसडीएम कार्यालय पर प्रदर्शन कर सभी घटक संघटनों के नियमित एवं संविदा कर्मियों ने 18 सूत्रीय मांगों को लेकर तहसीलदार को मुख्यमंत्री के नाम दिया।
इस ज्ञापन में कहा गया है कि सुराज संकल्प-पत्र- 2013 में कर्मचारी कल्याण के लिए कम्प्यूटर ऑपरेटर, प्रेरक, आगंनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, आशा सहयोगिनी, कम्प्यूटर शिक्षक, विद्यार्थी मित्र, आशा सुपरवाइजर व फेसिलेटर के लिए विभिन्न वायदे किए गए थॆ। साथ ही संविदा कर्मियों मंत्रालयिक सम्वयक, सूचना सहायक, लेबोरेट्री टेक्नीशियन, नर्सेज, वीडियोग्राफर, शिक्षक, प्रबोधक, 2012 में जिला परिषद के माध्यम से नियुक्त शिक्षकों सहित अन्य कर्मचारी संवर्गों की मांगें भी ज्ञापन में शामिल की गईं थीं। ज्ञापन देने वालों में कर्मचारी महासंघ एकीकृत के जिलाध्यक्ष अनीस अहमद, नैनवां उपशाखा अध्यक्ष बाबूलाल शर्मा, बूंदी शहर अध्यक्ष संजीव भारद्बाज, प्रेरक संघ जिलाध्यक्ष तेजराजसिह हाड़ा, प्रबोधक जिलाध्यक्ष एमडी अंसारी, नर्सेज जिलाध्यक्ष अंकित दाधीच, आंगनबाड़ी संघ की इन्द्रा शर्मा, प्रवक्ता मुस्तकिम, उपशाखा महामंत्री जगदीप सिह, जगदीश सुमन, रघुवरदास जाटव, प्रेरक संघ ब्लॉक अध्यक्ष पदम जैन, जलदाय विभाग जिला मंत्री जहागीर बैग, मदरसा पेराटीचर संघ के युनूस मंसूरी, मुख्यमंत्री दवा योजना के धर्मराज, मुख्यमंत्री नि:शुल्क जांच योजना के राजेन्द्र शर्मा, सूचना सहायक संघ के मौजी राम, रेडियोग्राफर संघ के मेनेजर नागर, नर्सेज एसोसिएशन के शत्रुध्न चौधरी, प्रकाश नारायण, राजेश स्वामी, राम शर्मा आदि पदाधिकारी-कर्मचारी शामिल थे।