मुख्यमंत्री वसुंधरा रविवार को बून्दी आएंगी, जिले को देंगी अरबों की सौगात

12 परियोजनाओं का उद्घाटन और 17 का होगा शिलान्यास

0
321

न्यूज चक्र @ बून्दी
मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे रविवार ( 15 जनवरी) को बून्दी आएंगी। मुख्यमंत्री अपनी इस यात्रा के दौरान राज्य सरकार के तीन वर्ष पूरा होने के उपलक्ष्य में जिले को तीन अरब से अधिक लागत के विकास कार्यों की सौगात देंगी। इनमें चम्बल नदी पर गैंता-माखीदा को जोड़ने के लिए बहुप्रतीक्षित पुल के शिलान्यास के साथ ही करीब 2 अरब 10 करोड़ रुपए की लागत के 17 अन्य कार्यों का भी शिलान्यास करेंगी। इनके अलावा वसुन्धरा 1 अरब 8 करोड़ की लागत की परियोजनाओं का लोकार्पण भी करेंगी।
जिला कलक्टर नरेश कुमार ठकराल ने बताया कि मुख्यमंत्री राजे दोपहर दो बजे इन्द्रगढ तहसील के पापड़ी गांव में इन विकास कार्यों की पट्टिकाओं का अनावरण करेंगी। इसी के साथ वे यहां जनसभा को सम्बोधित भी करेंगी। इन कार्यक्रमों की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा चुका है।
सुलभ आवागमन से विकास पथ खोलेगा गैंता-माखीदा पुल
केशरायपाटन क्षेत्र में चम्बल पर माखीदा से कोटा के गैंता तक बनने वाले उच्चस्तरीय पुल का शिलान्यास करेंगी। यह परियोजना कोटा व बून्दी के इन क्षेत्रों के लिए वरदान साबित होगी। इस पुल के निर्माण से सवाईमाधोपुर व लाखेरी की तरफ से इटावा, बारां, झालावाड़, शिवपुरी (मध्य प्रदेश) की ओर जाने के लिए लगभग 70 किमी दूरी कम हो जाएगी। बूंदी जिले के लाखेरी, लबान, रामगंज, प्रतापगढ़, भरवली, खाकटा, सुमेरगंजमंडी आदि क्षेत्रों को बड़ा फायदा होगा। लाखेरी क्षेत्र के एक दर्जन से अधिक गांवों को निर्बाध आवागमन मिलेगा।
एक दर्जन परियोजनाओं का होगा लोकार्पण
मुख्यमंत्री राजे बूंदी जिले में नवनिर्मित एक अरब से अधिक लागत वाले विकास कार्यों को लोकार्पित कर आमजन को लाभान्वित करेंगी। जिला कलक्टर ठकराल ने बताया कि राजे मॉडल स्कूल बरुंधन के भूमि तल (280 लाख रुपए), मॉडल स्कूल हिडौली प्रथम तल (268.25 लाख रुपए), मॉडल स्कूल नैनवां प्रथम तल (271.13 लाख रुपए), देवनारायण आवासीय कन्या विद्यालय हिण्डौली (967.00 लाख रुपए) का लोकार्पण करेंगी। इनके अलावा तहसील भवन तालेड़ा (175 लाख रुपए), 33/ 11 केवी सब स्टेशन फूलेता (123.90 लाख रुपए), 33/11 केवी सब स्टेशन देवपुरा (275 लाख रुपए), 33/11 केवी सब स्टेशन अरनेठा (182 लाख रुपए), रिपेयर रेस्टोरेशन एण्ड रिनोवेशन ऑफ बन्सोली लघु सिचाई परियोजना (552.02 लाख रुपए), चम्बल बूंद पेयजल परियोजना 7437 उप तहसील भवन दबलाना (175 लाख रुपए), उपतहसील भवन लाखेरी (175 लाख रुपए) के विकास कार्यों को जनसमर्पित करेंगी।
विकास को मिलेगी नई रफ्तार
मुख्यमंत्री इस दौरे में चम्बल नदी पर माखीदा से गैंता राज्य राजमार्ग संख्या 1ए पर उच्च स्तरीय ब्रिज निर्माण कार्य लागत 12000 लाख, 1584.00 लाख लागत वाली क्लस्टर डिस्ट्रीब्यूशन चम्बल-बून्दी पेयजल परियोजना, 250 लाख रुपए प्रति कार्य लागत वाले 6 नगरीय गौरव पथ तथा 2400 लाख रुपए लागत से 40 ग्रामीण गौरव पथ निर्माण, 1451.52 लाख रुपए की लागत से पुराने राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 12 के निर्माण के बाद छूटे हुए भाग बून्दी बाईपास के सुदृढèीकरण व नवीनीकरण, पुनर्गठित ग्रामीण पेयजल योजना डाबी 493.20 लाख रुपए व हिण्डोली 648 लाख रुपए, 431.376 लाख रुपए की लागत से रामगढ़ वन्यजीव अभयारण्य की दक्षिणी सीमा दीवार निर्माण कार्य, इसी से सम्बद्ध 174.425 लाख रुपए की लागत से धनेश्वर की राजस्व भूमि की सुरक्षा दीवार, इन्द्रगढ़ के जयनिवास में 150 लाख रुपए, लागत के 33/11 केवी जीएसएस, बालापुरा में 120 लाख रुपए लागत से 33/11 केवी सब स्टेशन व 100 लाख रुपए लागत से जिला आबकारी अधिकारी कार्यालय भवन का शिलान्यास करेंगी।