गणेश प्रतिमाओं के सुरक्षित विसर्जन के लिए हिन्दू उत्सव समिति का गठन

*प्रशासन को हर तरह से किया जाएगा सहयोग* *11 गणेश सैनिक विशोषतौर पर सम्भालेंगे सारी व्यवस्थाएं* *प्रशासन ने भी सीएलजी की बैठक में दिया पर्याप्त सहयोग का आश्वासन*

0
1121
बूंदी। आजाद पार्क में आयोजित हुई शहर के गणेश मंडलों की बैठक में मौजूद गणेश सैनिक।

 

न्यूज चक्र @ बूंदी

अनंत चतुर्दशी के अवसर पर 15 सितम्बर को किए जाने वाले गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन के दौरान प्रशासन ने हिन्दू उत्सव समिति को नाव व तैराकों सहित आवश्यक वाहन व्यवस्था का आश्वासन भी दिया है। सीएलजी की सोमवार को हुई बैठक में इस संबंध में वार्ता हुई।

समिति के सुनील हाड़ौती ने यह जानकारी दी। इसके अनुसार गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन व निकलने वाले जुलूस के दौरान हिन्दू उत्सव समिति के 11 गणेश सैनिक प्रशासन को व्यवस्थाओं में सहयोग प्रदान करेंगे। हाड़ौती ने यह भी बताया कि इससे पूर्व आजाद पार्क में शहर के गणेश मंडलों की बैठक हुई थी। इसमें करीब सौ गणेश सैनिकों ने भाग लिया। इसी बैठक में हिन्दू उत्सव समिति का गठन किया गया था। बैठक में भगवान गणेश की प्रतिमाओं का विसर्जन पूरी तरह सुरक्षित तरीके से करने की रणनीति बनाई गई। इसमें यह भी तय किया गया कि सुखमहल के घाटों पर गणेश विसर्जन का नजारा देखने आने वाले व जुलूसों में शामिल होने वाले श्रद्धालुओं के लिए पेयजल व्यवस्था की जाएगी। साथ ही हमेशा की तरह सुखमहल के घाटों से गहराई वाली जगहों पर मूर्ति विसर्जन करने के लिए प्रशिक्षित तैराकों की व्यवस्था भी रहेगी। इसके तीन दिन बाद घांस के ढांचे ऊपर आ जाते हैं। उन्हें निकलवा कर बड़ी नदी में डालने की व्यवस्था का निर्णय भी हिन्दू उत्सव समिति ने लिया। यह सारी जिम्मेदारी 11 गणेश सैनिक संभालेंगे। इसमें प्रशासन का जो भी सहयोग मिल सकेगा वो लिया जाएगा। समिति ने यह भी तय किया कि यह त्योहार पूरी तरह शालीनता व हर्षोल्लास से मनाया जा सके, इसके लिए सभी धर्म प्रेमियों का सहयोग करेंगे।