साथी की पुलिस हिरासत में मौत से ग्राम सेवकों में उबाल, धरना जारी

0
794

 

न्यूज चक्र @ कोटा

पंचायत समिति खैराबाद की ग्राम पंचायत सहरावदा के ग्राम सेवक गोपाल लाल सोनी की पुलिस हिरासत में हुई मौत के मामले में जिलेभर के ग्राम सेवकों का अनिश्चितकालीन धरना व कलमबंद हड़ताल गुरुवार को दूसरे दिन भी जारी रही।

राजस्थान ग्राम सेवक संघ के कोटा जिलाध्यक्ष बहादुर सिंह गांधी के नेतृत्व में इस धरने की शुरुआत के पहले जिला कलक्टर सहित जिला परिषद के सीईओ व सभी विकास अधिकारियों को इस संबंध में ज्ञापन दिया गया था। इसमें कहा गया है कि सोनी को पुलिस ने बिना कार्यालय अध्यक्ष की अनुमति के 30 जुलाई को अन्य राज्य में ले जाकर प्रताड़ित किया। इससे उसकी मृत्यु हो गई। इस पर सोनी की पत्नी सविता 4 अगस्त को रामगंजमंडी थाने में एफआईआर दर्ज कराने गई तो थानाधिकारी ने एफआईआर दर्ज नहीं कर मात्र सादे कागज पर पावती दे दी, जो अनुचित है। एफआईआर दर्ज करवा कर पावती दिलवाई जाए। इस मामले में जो पुलिस अधिकारी व कर्मचारी दोषी हैं, उन्हें निलम्बित किया जाए। पुलिस ग्राम सेवक सोनी को जांच के नाम पर चार महीनों से अन्य जिलों में ले जाकर प्रताड़ित कर रही थी। इसके लिए काम में ली जा रही लग्जरी कार व होटलों में ठहरने का खर्च सोनी से ही लिया जा रहा था। पुलिस अधिकारियों के रोजनामचे की रिपोर्ट के आधार पर इस मामले की जांच करवाई जाए। ज्ञापन में 13 अगस्त को मंत्री समूह की मीटिंग के दौरान मांगों को लेकर जिला कलक्ट्रेट कार्यालय पर धरना दिए जाने की बात भी की गई है।