मदरसे बंद मिले, एक पैराटीचर प्राइवेट स्कूल में पढ़ाता मिला

मदरसों के आकस्मिक निरीक्षण में मिली गम्भीर अनियमितताएं

0
411

फिरोज खान @ बारां

जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी गिरिजा शंकर मोठीस ने मंगलवार को कई मदरसों का आकस्मिक निरीक्षण किया।  इस दौरान भारी अनियमितताएं सामने आईं |

निरीक्षण में अंजुमन इस्लामिया रानीबड़ौद 10.30 बजे ही बंद मिला। वहां कार्यरत मदरसा शिक्षा सहयोगी शमीम बानों को फोन कर बुलाए जाने पर उपस्थित हुई , वहीं प्रधान पैराटीचर साबिर हुसैन अनुपस्थित रहा। मदरसा अंजुमन इस्लामिया किशनगंज 10.45 बजे बंद मिला। इस मदरसों में कार्यरत पैराटीचर्स का एक दिन का मानदेय काटने के आदेश दिए गए। अंता के मदरसा उस्मानिया हाड़ौतियान अंसारी में कार्यरत मदरसा शिक्षा सहयोगी जाहिद हुसैन अंसारी मदरसा समय में एक निजी विद्यालय में विज्ञान का अध्यापन कार्य करता पाया गया। उसे डीएमडब्ल्यूओ ने सख्त हिदायत दी कि मदरसा समय में दोहरा अध्यापन कार्य करने पर उच्च अधिकारियों को अवगत कराया जाएगा। कोई भी शिक्षा सहयोगी ऐसा ना करें। मदरसा केलवाड़ा, समरानिया, देवरी, कस्बाथाना तथा शाहबाद के मदरसे खुले हुए थे। साथ ही ऋण वसूली के तहत हीरापुर में जसमाल, मुख्तार अहमद व भंवरगढ में मोहम्मद इलियास, इजहार अहमद, जावेद अहमद से सम्पर्क कर बकाया ऋण राशि समय पर जमा कराने की हिदायत दी गई।