सर्किट हाउस व आरटीडीसी की होटल वृंदावती के पास नहीं खाद्य लाइसेंस

खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने शहर के पेइंग गेस्ट हाउस, होटलों व रेस्टोरेंट्स का किया निरीक्षण, मिली कई खामियां, सुधार के लिए दी हिदायत, चार अगस्त तक खाद्य लाइसेंस बनाना है जरूरी

0
373
बूंदी। एक रेस्टोरेन्ट में जांच करते जोन खाद्य सुरक्षा अधिकारी अरुण सक्सेना व अन्य।

न्यूज चक्र @ बूंदी
कोटा जोन एवं बूंदी के खाद्य सुरक्षा अधिकारियों के दल ने शनिवार को संयुक्त रूप से शहर में संचालित पेइंग गेस्ट हाउस, होटलों व रेस्टोरेंट्स का आकस्मिक निरीक्षण किया इनमें से सरकारी प्रतिष्ठानों सर्किट हाउस व आरटीडीसी की होटल वृंदावती के पास खाद्य लाइसेंस नहीं मिले। कई प्रतिष्ठानों में साफ-सफाई भी संतोषजनक नहीं पाई गई। इस पर इन्हें शीघ्र खाद्य लाइसेंस बनवाने व साफ-सफाई के उचित प्रबंध करने की हिदायत दी। साथ ही खामियों पर कई जगह चालान भी बनाए गए। यहां गौरतलब है कि सरकार ने चार अगस्त तक इन सभी प्रतिष्ठानों को खाद्य लाइसेंस बनवाने की छूट दे रखी है।
कोटा जोन खाद्य सुरक्षा अधिकारी अरुण सक्सेना व बूंदी खाद्य सुरक्षा अधिकारी गिरिराज शर्मा ने बताया कि विदेशी पर्यटकों की शहर में खासी आवक को देखते हुए यह कार्रवाई की गई। इसके तहत नाहर का चौहट्टा व बालचंद पाड़ा क्षेèत्र में संचालित पेइंग गेस्ट हाउस व रेस्टोरेंट्स का सघन निरीक्षण किया गया। इन्हेंं साफ-सफाई रखने सहित खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम के नियम व विनियमों के अनुसरण के निर्देश दिए गए। साथ ही खामियां मिलने पर चालान भी बनाए। इसके अलावा जिन प्रतिष्ठानों के पास खाद्य लाइसेंस नही थे, उन्हें इसके लिए हिदायत दी गई। सक्सेना व शर्मा ने बताया कि सर्किट हाउस व आरटीडीसी की होटल वृंदावती का भी उन्होंंने निरीक्षण करने किया। इन दोनों के पास खाद्य लाइसेंस नहीं मिले। इस पर सबंधित कर्मचारियों को शीघ्र ये लाइसेंस बनवाने के निर्देश दिए गए।