चम्बल की महाआरती कर मांगा कोटा की खुशहाली का वरदान

'युवा एक नई सोच’ संगठन ने गुरू पूर्णिमा के अवसर पर किया आयोजन

0
1029
कोटा। बजरंग धाम पर चम्बल की महाआरती करते श्रद्धालु।

न्यूज चक्र @ कोटा

समाजसेवी संगठन ‘युवा एक नई सोच’ की ओर से गुरू पूर्णिमा के पावन अवसर पर मंगलवार शाम को धीरेन्द्ग गिरी महाराज के सानिध्य में मां चर्मण्यवती (चम्बल नदी) की महाआरती की गई। इसके लिए संगठन से जुड़े करीब दो सौ कार्यकताã बालाजी स्थित बजरंगधाम पर एकत्रित हुए। इन्होंने यहां 151 दीपों से चम्बल की भव्य महाआरती की। आरती में शामिल सभी श्रद्धालुओं ने मां चर्मण्यवती से कोटा शहर की खुशहाली व सदानीरा का वरदान मांगा। इसके साथ ही भंडारे का आयोजन भी किया गया।
आयोजक संगठन के अध्यक्ष शिवराज गुंजल ने बताया कि इस मौके पर उपस्थित सदस्यों व पदाधिकारियों को चम्बल शुद्धिकरण व पर्यावरण संरक्षण की शपथ भी दिलाई गई। संगठन की ओर से इसके लिए शीघ्र ही श्रमदान भी किया जाएगा। साथ ही चम्बल नदी को प्रदूषित होने से बचाने के लिए भी आमजन को जागरूक भी किया जाएगा। साथ ही संगठन की ओर से हर माह की पूर्णिमा को चम्बल की आरती का आयोजन किया जाएगा।
इस मौके पर आयोजित विशाल आम भंडारे में हजारों श्रद्धालुओं ने भोजन-प्रसादी ग्रहण की। इस अवसर पर संगठन के महामंत्री मोहित शुक्ला, सुनील शांडिल्य, अमित जैन, हनुप्रताप, कैलाश जांगीड़, नन्दलाल गुर्जर, वैभव गौतम, वसीम अंसारी, यतेन्द्ग सिंह आदि सदस्य व पदाधिकारी भी मौजूद थे।