भाजपा में अपनों को ही साधने की कवायद तेज, पहुंचे दिग्गज

प्रदेश उपाध्यक्ष, शिक्षा मंत्री, परिवहन राज्य मंत्री, सफाई आयोग अध्यक्ष व महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष ने बंद कमरे में ली जिला कार्यकारिणी की बैठक

0
1511
बूंदी। सर्किट हाउस के बंद कमरे में हो रही भाजपा जिला कार्यकारिणी की बैठक।

न्यूज चक्र @ बूंदी
राज्य के पांच मंत्रियों के शीघ्र प्रस्तावित जिले के दौरे की तैयारियों को पुख्ता करने के लिए गुरुवार को भाजपा के कई दिग्गज नेताओं ने सर्किट हाउस में बंद कमरे में जिला कार्यकारिणी की बैठक ली। इससे पूर्व शिक्षा मंत्री व परिवहन राज्य मंत्री को सर्किट हाउस पहुंचते ही विभिन्न कर्मचारी संगठनों के विरोध का सामना करना पड़ा। इसमें देवनानी से तो प्रेरक संघ के कार्यकर्ताओं की नोकझोंक भी हुई। विद्यार्थी मित्र शिक्षक संघ के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने बाहर निकाल दिया। ये मंत्रियों को सुराज संकल्प यात्रा के दौरान किए गए वायदों की दुहाई दे रहे थे। वहीं इतनी वीआईपी हस्तियों के एक साथ पहुंचने के चलते सर्किट हाउस में खासी गहमागहमी रही।
शाम चार बजे करीब से ही सर्किट हाउस में भाजपा नेताओं का जमावड़ा शुरू हो गया था। यहां पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष नंद किशोर सोलंकी, शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी व जिला प्रभारी एवं महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष मधु शर्मा पहुंचीं। इनके साथ जिले से ही विधायक व परिवहन राज्य मंत्री बाबूलाल वर्मा व राज्य सफाई आयोग के अध्यक्ष गोपाल पचेरवाल भी रहे। बंद कमरे में शुरू हुई पार्टी जिला कार्यकारिणी की बैठक सायं साढ़े सात बजे समाचार लिखे जाने तक भी जारी थी। सूत्रों के अनुसार बैठक में मुख्य रूप से आपसी मतभेद भुलाने, अनुशासन, सरकार की योजनाओं से जनता को अधिकाधिक अवगत करवा लाभांवित करने आदि की सीख दी गई। सर्किट हाउस में इस दौरान बंद कमरे से बाहर मौजूद रहे कार्यकर्ता यह चर्चा करते दिखे कि सरकार की गिरती साख व कांग्रेस के आक्रामक होते जाने सहित कार्यकर्ताओं में पनप रहे भारी असंतोष व गुटबाजी के चलते पार्टी अभी से संभल कर चुनावी तैयारी में लग गई है। इस बैठक के बाद मंत्रियों का बूथ अध्यक्षों से भी विचार-विमर्श का कार्यक्रम बताया गया।

आते ही विरोध प्रदर्शन का करना पड़ा सामना

भाजपा के दिग्गजों का सर्किट हाउस में शाम चार बजे से ही आना शुरू हो गया था। शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी को तो यहां आते ही विद्यार्थी मित्र शिक्षक संघ के प्रदर्शन का सामना करना पड़ा। विद्यार्थी मित्रों ने अंदर जाकर उनसे मिलना चाहा तो पुलिस ने उन्हें  निकाल दिया। बाद में जिला अध्यक्ष मनोज खटीक सहित चार विद्यार्थी मित्रों को जाने दिया गया। इन्होंने नियमित किए जाने की मांग को लेकर देवनानी को ज्ञापन दिया। इसमें नियमित नहीं करने पर इच्छा मृत्यु की अनुमति मांगी गई थी। इस ज्ञापन में कहा गया है कि विधानसभा चुनाव से पूर्व सुराज संकल्प यात्रा के दौरान आपके व आपकी पार्टी के द्वारा विद्यार्थी मित्र शिक्षकों को नियमित करने का वादा करते हुए कहा गया था-आओ साथ चले। इसी के चलते विद्यार्थी मित्र तन-मन-धन से भाजपा के साथ रहे। बूथ एजेन्ट तक बन पूरी ताकत से मेहनत कर जीत दिलाई। पार्टी के द्वारा बार-बार कहा गया कि विद्यार्थी मित्रों को एक दिन भी बेरोजगार नहीं रहने दिया जाएगा। सरकार बनते ही स्थायी रोजगार देंगे। मगर दुर्भाग्य है कि 30 अप्रेल 2014 से 24 हजार 163 विद्यार्थी मित्र शिक्षक बेरोजगार हैं। दाने-दाने को मोहताज हैं। बेरोजगारी से तंग आकर 11 विद्यार्थी मित्र आत्महत्या कर चुके हैं। गत मई माह में ही तीन विद्यार्थी मित्रों ने आत्महत्या का प्रयास किया।
इसी प्रकार अखिल भारतीय प्रेरक संघ ने भी शिक्षा मंत्री को नियमित किए जाने के लिए ज्ञापन दिया। संघ की विज्ञप्ति में जिलाध्यक्ष तेजराज सिंह ने कहा है कि मंत्री को सुराज संकल्प यात्रा में किए गए वायदे की याद दिलाई। इस दौरान उनसे तीखी नोकझोंक होने की बात भी कही गई है। ज्ञापन देने वालों कर्मचारी महासंघ के अनीस अहमद आदि भी शामिल थे। परिवहन राज्य मंत्री वर्मा को भी हाल ही में ही हुई काउंसलिंग आदि से नाराज शिक्षकों ने घेर कर अपना पक्ष रखा।

जिलाध्यक्ष एवं विधायक डोगरा नहीं रहे मौजूद

इस अहम बैठक मे भाजपा जिलाध्यक्ष एवं बूंदी विधायक अशोक डोगरा शामिल नहीं हुए। इसे लेेकर कार्यकर्ताओं में चर्चा रही। पता चला है कि डोगरा की बहन की तबीयत काफी खराब थी। उनका ऑपरेशन होने के कारण वे वहां गए हुए हैं।

बूंदी। शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी के आगमन पर सर्किट हाउस में प्रदर्शन करते विद्यार्थी मित्र शिक्षक संघ के कार्यकर्ता।
बूंदी। शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी के आगमन पर सर्किट हाउस में प्रदर्शन करते विद्यार्थी मित्र शिक्षक संघ के कार्यकर्ता।
बूंदी। सर्किट हाउस में पहुंचे परिवहन राज्य मंत्री बाबूलाल
बूंदी। सर्किट हाउस में पहुंचे परिवहन राज्य मंत्री बाबूलाल
वर्मा। बूंदी। सर्किट हाउस में कर्मचारी संगठनों के प्रदर्शन व आक्रोश पर शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी असहज दिख्ो।
वर्मा।
बूंदी। सर्किट हाउस में कर्मचारी संगठनों के प्रदर्शन व आक्रोश पर शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी असहज दिखे।
बूंदी। सर्किट हाउस पहुंचने पर भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष मधु शर्मा का स्वागत करते कार्यकर्ता।
बूंदी। सर्किट हाउस पहुंचने पर भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष मधु शर्मा का स्वागत करते कार्यकर्ता।