मिसाल:वधवा बंधु गुपचुप कर गए लाखों रुपयों के सामाजिक कार्यों की घोषणा

0
953

न्यूज चक्र @ बूंदी
स्व. चंदनलाल वधवा स्मृति संस्थान के संस्थापक सुनील व संजीव वधवा ने जिला चिकित्सालय के आईसीयू वार्ड में सुविधाएं बढ़ाने के साथ आंगनबाड़ी के नवप्रवेशित पांच सौ बच्चों को गणवेश देने व पच्चीस अन्य बालिकाओं के बैंक खातों में हर वर्ष दस-दस हजार रुपए जमा कराने की घोषणा की। इससे मरीजों के साथ गरीब बालक-बालिकाओं को काफी राहत मिलेगी।
पार्षद मुकेश माधवानी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मूल रूप से बूंदी के निवासी व जयपुर में व्यवसायी वधवा भाइयों ने रविवार को जिला कलक्टर नरेश कुमार ठकराल के साथ आईसीयू वार्ड का जायजा लिया। इस दौरान माधवानी भी इनके साथ थे। यहां इन्होंने वार्ड में सुविधाओं को बढ़ाने के साथ एक और गार्ड लगाने की घोषण की। उल्लेखनीय है कि स्व. चंदनलाल वधवा स्मृति संस्थान ने ही इस वार्ड को गोद ले रखा है। इस वार्ड पर यह संस्था अभी तक बीस लाख रुपए खर्च कर चुकी है। इसी क्रम में सुनील वधवा ने जिले के आगनबाड़ी केन्द्रों में नवप्रवेशित 500 बच्चों को गणवेश देने व तेजस्विनी बालिका आश्रम में रहने वाली 25 बालिकाओं के बैंक खातों में हर वर्ष 10-10 हजार रुपए जमा कराने की घोषणा की।
मीडिया में नहीं चाहते प्रचार, केले-बिस्कुट बांटने वालों के लिए संदेश

पार्षद माधवानी ने बताया कि ये इन वधवा भाइयों ने जिले में और में सामाजिक कार्यों में काफी पैसा लगा रखा है। मगर वे इन बातों का मीडिया में बिलकुल भी प्रचार नहीं चाहते हैं। इसके चलते ही वे यहां फोटो खिंचावाने से भी बचते हैं। वहीं देखने में आता है कि विभिन्न अवसरों पर चिकित्सालय में रोगियों को केले-बिस्कुट बांटने वाले भी अपने फोटो इस तरह से जारी करते हैं जैसे वे कोई बहुत ही महान कार्य कर रहे हों।